Ashok Gehlot: जैसे BJP में TDP सांसद आए वैसे ही BSP MLA का हुआ मर्जर

Rajasthan Political Crisis: चार्टर प्लेन से जैसलमेर पहुंचे कांग्रेस विधायक, 14 अगस्त तक सूर्यगढ़ में रखने की तैयारी

Updated: Aug 01, 2020 12:32 AM IST

Ashok Gehlot: जैसे BJP में TDP सांसद आए वैसे ही BSP MLA का हुआ मर्जर

जयपुर। राजस्थान में पिछले कुछ दिनों से चल रहे राजनीतिक घमासान के बीच कांग्रेस विधायकों को राजधानी जयपुर से जैसलमेर शिफ्ट कर दिया गया है। इस बीच बसपा और BJP के आरोपों का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बताया है कि BSP के 6 विधायकों का कांग्रेस में विलय कैसे गलत नहीं है। 

कांग्रेस ने बहुजन समाज पार्टी के छह विधायकों को साथ में ले कर सरकार बनाई है। बसपा सुप्रीमो मायावती सहित विपक्ष को जवाब देते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट कर कहा है कि बीजेपी ने टीडीपी के 4 सांसदों को राज्यसभा के अंदर रातों रात मर्जर करवा दिया, वो मर्जर तो सही है और राजस्थान में 6 विधायक मर्जर कर गए कांग्रेस में वो मर्जर गलत है, तो फिर बीजेपी का चाल-चरित्र-चेहरा कहां गया? राज्यसभा में मर्जर हो वो सही है और यहां मर्जर हो वो गलत है?

सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि गोवा में BJP ने कांग्रेस के 15 में से 10 MLA दो तिहाई के आधार पर ले लिए। TDP के 4 सांसदों का राज्यसभा के अंदर BJP में मर्जर हो गया। राजस्थान में BSP के 6 के 6 MLA पूरी पार्टी कांग्रेस के अंदर मर्जर कर गयी है। जब BJP का मर्जर सही तो यहां मर्जर गलत कैसे? इसे क्या कहोगे?

BJP के इशारे पर बयानबाजी कर रही हैं मायावती

सीएम अशोक गहलोत ने बसपा सुप्रीमो मायावती के लिए कहा है कि 'बहनजी को BJP ने आगे कर रखा है और उन्हीं के इशारे पर वो बयानबाजी कर रही हैं। BJP जिस प्रकार से CBI, ED, IT का दुरुपयोग कर रही है, सबको ही डरा रही है, धमका रही है, राजस्थान में क्या हो रहा है, सबको मालूम है, ऐसा तमाशा कभी देखा नहीं। वे उनसे डर रही हैं और मजबूरी में बयान दे रही हैं।' 

जैसलमेर का सूर्यगढ़ होगा विधायकों का ठिकाना 

प्रदेश के राज्यपाल कलराज मिश्रा द्वारा विधानसभा सत्र की मंजूरी मिलने के बाद सीएम अशोक गहलोत ने अपने सभी समर्थक विधायकों को साथ लेकर तीन चार्टेड प्लेन से जैसलमेर रवाना हुए। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जैसलमेर शिफ्टिंग के दौरान करीब 97 विधायक नजर आए। इसके पहले सभी विधायकों को पिछले एक महीने से जयपुर के फेयरमोंट होटल में रखा गया था। सूत्रों के अनुसार विधायकों को जैसलमेर के सूर्यगढ़ ले जाया जा सकता है। यहां पुलिस सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है, राजस्थान सरकार ने कुछ और जगह भी चिह्नित की हैं। विधायकों को विधानसभा सत्र आरम्भ होने तक यहीं रखे जाने की योजना है। 

आगे पाकिस्तान, कहां तक भागेंगे कांग्रेस MLA

कांग्रेस विधायकों के शिफ्ट करने के बाद राजनीतिक बयानबाजी शुरू हो गयी है। राजस्थान बीजेपी अध्यक्ष सतीश पूनिया ने ट्वीट कर कांग्रेस पर तंज कसा है। उन्होंने कहा, 'गहलोत जी आप कांग्रेस को टूट से बचाने के लिए विधायकों को जैसलमेर ले गए। कहां तक भागेगी सरकार? आगे तो अब पाकिस्तान ही है। अच्छा है इन सबको एक एक पीपा और दे दो, टिड्डी भगाने के काम आंएगे, किसानों का कुछ तो भला होगा, कर्जा तो माफ हुआ नहीं।'