इस समय में किताब : मणि मोहन और खलील जिब्रान

विश्व पुस्तक दिवस पर 23 अप्रैल से हमने एक श्रृंखला आरंभ की है – इस समय में किताब। इस श्रृंखला में किताबों और हमारे समय में उनकी उपादेयता पर चर्चा होगी।

Publish: May-08, 2020, 03:26 PM IST

अंग्रेजी के प्रोफेसर, कवि, अनुवादक और बेहतर फोटोग्राफर मणि मोहन लॉकडाउन के इस खाली समय में प्रकृति के बीच वक्‍त गुजारने के बाद खलील जिब्रान को पढ़ रहे हैं। वे खलील जिब्रान की कृतियों के अनुवाद का कार्य भी कर रहे हैं।उन्‍होंने हमारे साथ खलील ज्रिबान के लिखे अपने पसंदीदा अंशों को साझा किया।