Discovery Channel: भोपाल के आरपीएफ जवान इंदर सिंह यादव की मानवता दिखाएगा डिस्कवरी चैनल

RPF constable Inder Singh Yadav: लॉकडाउन के दौरान अपनी जान पर खेलकर चलती ट्रेन में बच्ची को दूध पहुंचा कर चर्चा में आए थे आरपीएफ जवान इंदर सिंह यादव, डिस्कवरी चैनल बना रहा शॉर्ट फिल्म

Updated: Sep-28, 2020, 07:09 PM IST

Discovery Channel: भोपाल के आरपीएफ जवान इंदर सिंह यादव की मानवता दिखाएगा डिस्कवरी चैनल

भोपाल। जून महीने में आरपीएफ जवान इंदर सिंह यादव का वीडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा था। दरअसल उन्होंने अपनी जान पर खेल कर भूख से व्याकुल बच्ची की मदद की थी। अब डिस्कवरी चैनल इंदर सिंह यादव पर एक शॉर्ट फिल्म बना रहा है। जिसका प्रसारण पूरी दुनिया में किया जाएगा। इसकी शूटिंग 10 से 22 सितंबर के बीच हुई है।

भोपाल रेलवे स्टेशन और बड़े तालाब के किनारे कुछ सीन शूट किए गए हैं। फिल्म में दिखाया गया है कि लॉकडाउन के दौरान इंदर सिंह ने किस तरह मानवता का उदाहरण पेश किया। डिस्कवरी चैनल ने आरपीएफ जवान पर फिल्म बनाने की सहमति भारत सरकार से ली है।  

 

 

मजदूर स्पेशल ट्रेन से सफर कर रहा था परिवार

दरअसल 31 मई 2020 को मजदूर स्पेशल ट्रेन से एक महिला हसीन हाशमी अपने पति शरीफ हाशमी और अपने 4 महीने के बच्ची के साथ बेलगाम से गोरखपुर जा रही थी। किसी भी स्टेशन में दूध नहीं मिलने की वजह से बच्ची भूख से परेशान थी। जैसे ही ट्रेन भोपाल स्टेशन पहुंची तो महिला ने भोपाल स्टेशन पर ड्यूटी कर रहे कांस्टेबल इंदर सिंह यादव से मदद गुहार की। और बताया कि उनकी बच्ची भूखी है कहीं से दूध का इंतजाम कर दें।

आरपीएफ जवान इंदर सिंह यादव

जान पर खेलकर चलती ट्रेन में बच्ची को पहुंचाया था दूध

इंदर तेजी से दौड़ते हुए भोपाल रेलवे स्टेशन के बाहर किसी दुकान से दूध का पैकेट लेकर आए। लेकिन इंदर के पहुंचते ही ट्रेन चल पड़ी, और देखते ही देखते तेज रफ्तार पकड़ ली। जिसके बाद भी इंदर ने बिना अपनी जान की परवाह किये चलती ट्रेन का पीछा किया। ट्रेन में उस महिला के बच्चे के लिए दूध का पैकेट पकड़ा दिया। यह पूरा वाकया वहां लगे सीसीटीवी में कैद हो गया। वहीं घर पहुंचकर महिला ने सोशल मीडिया के जरिये इंदर का शुक्रिया किया था।

 बच्ची की मां ने इंदर को कहा रियल हीरो 

उत्तर प्रदेश के आलमपुर पहुंचकर महिला ने अपनी बेटी और पति के साथ घर से वीडियो जारी कर रेलवे कांस्टेबल इंदर सिंह का शुक्रिया अदा किया था। जिसमें हसीन ने इंदर को कहा था कि “आप हमारी लाइफ के रियल हीरो हैं, और आप जैसे जांबाजों की देश को बहुत जरूरत है। आपने ट्रेन छूटने से पहले भूखी बच्ची की मदद की जो हमेशा याद रहेगा। आपकी इस मानवीय मदद से ही मेरी बच्ची मेरे साथ सकुशल घर लौट सकी है।

आरपीएफ जवान इंदर सिंह यादव

 

रेल मंत्री भी कर चुके हैं इंदर सिंह की तारीफ

आरपीएफ जवान की इस मानवता की तारीफ रेल मंत्री पीयूष गोयल भी कर चुके हैं। वहीं आरपीएफ के महानिदेशक अरुण कुमार, द अमेरिकन यूनिवर्सिटी फॉर ग्लोबल पीस नामक संस्था और ड्रीम भोपाल-ग्रीन भोपाल संस्था ने इंदर सिंह यादव का सम्मान करने की घोषणा की है।वहीं  इस बारे में आरपीएफ जवान इंदर सिंह का कहना है कि जिस दिन मैंने मदद के लिए कदम बढ़ाया था, पता नहीं था कि मेरे इस कदम को रेलवे आरपीएफ और भोपाल इतना सम्मान मिलेगा।