रोहित को आउट नहीं देने पर भड़के ब्रैड हॉग, कहा, अंपायरों ने बहुत बड़ी गलती कर दी

भारतीय पारी के तेरहवें ओवर में इंग्लैंड की टीम ने रिव्यू लिया, लेकिन पहले ऑन फील्ड अम्पायर और फिर टीवी अम्पायर दोनों ने रोहित शर्मा को नॉट आउट करार दिया

Updated: Feb 14, 2021, 11:03 PM IST

रोहित को आउट नहीं देने पर भड़के ब्रैड हॉग, कहा, अंपायरों ने बहुत बड़ी गलती कर दी
Photo Courtesy : MyKhelhindi

चेन्नई/नई दिल्ली। चेन्नई के मैदान में दूसरे टेस्ट के दूसरे दिन ऑन फील्ड और टीवी अम्पायर द्वारा दिया गया एक फैसला चर्चा का विषय बना हुआ है। रोहित शर्मा को एलबीडबल्यू की अपील पर नॉट आउट करार दिए जाने पर बहस छिड़ गई है। पूर्व ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर ब्रैड हॉग की नज़र में रोहित शर्मा साफ़ तौर पर आउट थे और अम्पायर ने रोहित शर्मा को नॉट आउट करार देकर बहुत बड़ी गलती कर दी है। 

ब्रैड हॉग ने  मैच के बीच में ट्वीट किया, ' रोहित ने शॉट खेलने का प्रयास नहीं किया था। अम्पायरों ने बहुत बड़ी गलती कर दी। अगर मैं इंग्लैंड टीम का हिस्सा होता तो तीसरे टेस्ट से पहले ज़रूर कुछ कठोर सवाल खड़ा करता।' 

दरअसल चेपॉक के मैदान में दूसरे टेस्ट के दूसरे दिन का आखिरी सेशन चल रहा था। भारतीय टीम की दूसरी पारी में 13 वां ओवर अपनी प्रगति पर था। उस समय ओपनर बल्लेबाज़ शुभमन गिल पवेलियन लौट चुके थे। और पिच पर रोहित शर्मा और चेतेश्वर पुजारा बल्लेबाज़ी कर रहे थे। कप्तान जो रूट ने तेरहवां ओवर दाएं हाथ के स्पिनर मोईन अली को थमाया। भारत की पहली पारी में टॉप रन स्कोरर रहे रोहित शर्मा लगातार स्ट्रगल कर रहे थे। बार बार स्वीप शॉट खेलने की उनकी कोशिशें नाकाम साबित हो रही थीं। तभी मोईन अली की एक गेंद रोहित शर्मा को चकमा दे गई।  

13 वें ओवर की दूसरी गेंद ऑफ स्टंप के बाहर पड़कर अंदर की तरफ आई। गेंद रोहित शर्मा के पैड्स पर लगी। इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने एलबीडबल्यू की अपील की, लेकिन ऑन फील्ड अम्पायर देवेंद्र शर्मा ने नॉट आउट करार दिया। अम्पायर के फैसले से असंतुष्ट जो रूट ने रिव्यू का इशारा किया। फैसला अब टीवी अम्पायर अनिल चौधरी के हाथों में था।  

रीप्ले देखकर लग रहा था कि गेंद ऑफ स्टंप के बाहर टप्पा खाकर अंदर की तरफ आई है और इसी दौरान रोहित शर्मा का बाएं पैड गेंद से टकराया। रीप्ले में टीवी अम्पायर ने देखा कि गेंद का इम्पैक्ट ऑफ स्टंप के बाहर पड़ा है। लिहाज़ा टीवी अम्पायर ने ऑन फील्ड अम्पायर के फैसले से सहमति जताते हुए रोहित शर्मा को नॉट आउट करार दे दिया। 

इंग्लैंड की टीम ने इस पारी का अपना पहला रिव्यू गंवा दिया। लेकिन इंग्लिश कप्तान जो रूट अम्पायरों के इस फैसले से संतुष्ट नहीं थे। जो रूट का मानना था कि रोहित शर्मा ने गेंद पर शॉट ऑफर नहीं किया था, अर्थात रोहित शर्मा ने शॉट खेलने का प्रयास नहीं किया था, लिहाज़ा रोहित शर्मा को आउट दिया जाना चाहिए था।   

क्या कहता है नियम 
दरअसल नियमों के मुताबिक, जब गेंद ऑफ स्टंप के बाहर पड़कर अंदर की तरफ आती है और बल्लेबाज़ के पैड्स से टकरा जाती है। तब बल्लेबाज़ को आउट करार देने के लिए गेंद का विकेटों की तरफ जाने के साथ साथ यह भी बेहद ज़रूरी होता है कि टप्पा पड़ने के बाद गेंद का इम्पैक्ट ऑफ स्टंप के बाहर न हो। हालांकि एक स्थिति ऐसी होती है जिसमें गेंद का इम्पैक्ट ऑफ स्टंप के बाहर होने के बावजूद बल्लेबाज़ को आउट करार दिया जा सकता है। बल्लेबाज़ को आउट करार देना इस बात पर निर्भर करता है कि उस गेंद पर बल्लेबाज़ ने शॉट खेलने का प्रयास किया था या नहीं। अगर बल्लेबाज़ ने शॉट खेलने का प्रयास किया होगा तो उसे नॉट आउट करार दिया जाएगा। 

फिलहाल भारत और इंग्लैंड के बीच चल रहे दूसरे टेस्ट का दूसरा दिन भी भारतीय टीम के नाम रहा। दूसरी पारी में अब तक भारतीय टीम ने एक विकेट के नुकसान पर 54 रन बना लिए हैं। रोहित शर्मा और चेतेश्वर पुजारा कल एक बार फिर मैदान में बल्लेबाज़ी करने उतरेंगे। दूसरे दिन की खेल समाप्ति के बाद रोहित शर्मा 25 जबकि पुजारा 7 रन के निजी स्कोर पर खेल रहे हैं। इंडियन टीम ने दूसरी पारी में अब तक कुल 249 रनों की बढ़त बना ली है। 

                                                                                                                       Photo Courtesy: BCCI

दूसरा दिन अश्विन के शानदार गेंदबाज़ी और  ऋषभ पंत की कमाल की विकेटकीपिंग के नाम रहा। पहले मैच में बेहतरीन बल्लेबाज़ी के लिए प्रशंसा और खराब विकेटकीपिंग के लिए आलोचना झेल चुके ऋषभ पंत ने आज विकेटों के पीछे दो उम्दा कैच लपके।  वहीं अश्विन ने अपने टेस्ट करियर में 29 वीं मर्तबा पांच विकेटों का हॉल अपने नाम कर लिया। पांच विकेट का हॉल लेने पर अश्विन के साथ एक और कारनामा भी जुड़ गया। अश्विन ने घरेलु मैदान पर पांच विकेटों के हॉल लेने के मामले में इंग्लैंड के जेम्स एंडरसन को पीछे छोड़ दिया है। अश्विन ने भारतीय सरज़मीं पर कुल 23 मर्तबा किसी पारी में पांच से ज़्यादा बल्लेबाज़ों को अपना शिकार बनाया है। अश्विन ने यह उपलब्धि भारत में खेल रहे अपने 45 वें मैच में हासिल की है। घरेलु सरज़मीं पर पांच विकेटों का हॉल लेने में अश्विन से इस समय मुरलीधरन, रंगना हेराथ और अनिल कुंबले आगे हैं। घरेलु सरज़मीं पर मुरीलधरन ने 45, रंगना हेराथ ने 26 जबकि अनिल कुंबले ने 25 मर्तबा किसी एक पारी में पांच विकेट से ज़्यादा विकेट चटकाए हैं। 

                                                                                                                   Photo Courtesy: BCCI

अश्विन ने आज एक और कीर्तिमान स्थापित किया। 60 वें ओवर की पांचवीं बॉल पर स्टुअर्ट बोर्ड को पवेलियन चलता कर अश्विन टेस्ट मैचों में बाएं हाथ के बल्लेबाज़ों का कुल 200 वीं बार शिकार कर लिया। जो कि किसी भी अन्य अंतर्राष्ट्रीय गेंदबाज़ से ज़्यादा है। अश्विन ने सबसे ज़्यादा बार ऑस्ट्रेलिया बल्लेबाज़ डेविड वार्नर और इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एलेस्टेर कुक को आउट किया है। अश्विन ने दोनों ही बल्लेबाज़ों को टेस्ट मैचों में दस दस बार वापस पवेलियन जाने पर  मजबूर किया है।