छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा, लॉकडाउन से कोरोना कम किया जा सकता है, ख़त्म नहीं

छत्तीसगढ़ में बीते 24 घंटों में 4 हजार से ज्यादा नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले, कलेक्टरों को दिया लॉकडाउन का फैसला लेने का अधिकार, स्वास्थ्य मंत्री बोले लॉकडाउन से संक्रमण की रफ्तार होगी कम

Updated: Apr 02, 2021, 05:18 PM IST

छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा, लॉकडाउन से कोरोना कम किया जा सकता है, ख़त्म नहीं
Photo courtesy: DNA

रायपुर। छत्तीसगढ़ के कई जिलों में कोरोना लगातार बेकाबू होता जा रहा है। इस बीच स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव का बड़ा बयान सामने आया है जिसमें कहा गया है कि लॉक डाउन से कोरोना खत्म नहीं होगा लेकिन कोरोना की रफ्तार पर लगाम लगाई जा सकती है। इससे संक्रमण फैलने से रोका जा सकता है। दरअसल रायपुर दुर्ग समेत छत्तीसगढ़ के कई शहरों में कोरोना संक्रमित मरीज बढ़ते जा रहे हैं।

जिसके बाद मुख्यमंत्री ने जिला कलेक्टरों को हालात के मद्देनजर लॉकडाउन का फैसला लेने का आदेश जारी कर दिया है। इसी बारे में स्वास्थ्य मंत्री ने कहा है कि लॉकडाउन के बारे में जिला प्रशासन फैसला लेगा ताकि कोरोना की रफ्तार पर लगाम लगाई जा सके।

कलेक्टरों को जिम्मेदारी मिलने के बाद संभवत: सबसे ज्यादा मरीजों वाले रायपुर के साथ राजनांदगांव में भी लॉकडाउन लगाया जा सकता है। दुर्ग में 6 से 14 अप्रैल तक टोटल लॉकडाउन की घोषणा कलेक्टर ने कर दी है। बीते 24 घंटों में छत्तीसगढ़ की पॉजिटिव रेट 11.3 हो गई है।

बीते 24 घंटे में छत्तीसगढ़ में 4 हजार 617 कोरोना के नए मरीज मिले है। जिनमें से 1327 मरीज रायपुर में संक्रमित मिले हैं। दुर्ग में 996, राजनांदगांव में 437, बिलासपुर में 288 मरीज शामिल हैं। कल कुल 40 हजार 857 लोगों का कोरोना टेस्ट हुआ था। गुरुवार को प्रदेश भर में 25 कोरोना मरीजों की मौत हुई है। छत्तीसगढ़ में कोरोना एक्टिव मरीजों की संख्या 28 हजार 987 है।  

गौरतलब है कि प्रदेश में नाइटकर्फ्यू जारी है। लोगों से मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग रखने की अपील की जा रही है। एक अप्रैल से 45 साल तक के लोगों का वैक्सीनेशन भी शुरू हो गया है। कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर कांग्रेस विधायक विकास उपाध्याय, देवेंद्र यादव समेत कई नेताओं ने रायपुर समेत कई जिलों में लॉकडाउन लगाने की अपील सरकार से की थी।