नशे के सिरप के लिए रायपुर में गैंगवार, दो गुटों में हुई चाकूबाजी, 6 लोग घायल

ताजनगर इलाके में दो गुटों में विवाद, नशे का सिरप खरीदने के दौरान हुआ झगड़ा, चाकूबाजी और पत्थर बाजी तक पहुंचा मामला, इलाके में भारी पुलिस बल तैनात, सिविल लाइन थाना पुलिस जांच में जुटी

Updated: Jun 23, 2021, 12:18 PM IST

नशे के सिरप के लिए रायपुर में गैंगवार, दो गुटों में हुई चाकूबाजी, 6 लोग घायल
Photo Courtesy: jantaserishta

रायपुर। राजधानी के सिविल लाइन थाना क्षेत्र में नशे का सामान खरीदने को लेकर दो गुटों में विवाद हो गया। इस दौरान चाकूबाजी और पथराव में आधा दर्जन लोग घायल हो गए हैं। मंगवार रात रायपुर के ताजनगर में मस्जिद के पास एक किराने की दुकान में नशीले स्टिंग खरीदने के दौरान दो गुटों में झगड़ा हो गया था। बात बढ़ते-बढ़ते चाकूबाजी तक पहुंच गई। इस घटना में दोनों गुटों के 3-3 लोग घायल हो गए हैं।

बताया जा रहा है कि चाकू चलाने से पहले एक गुट ने एक दूसरे गुट पर पत्थर बरसाना शुरु कर दिया था। फिर मामला बढ़ते देख एक गुट ने चाकू चला दिया। जिसमें 6 लोग घायल हो गए। प्रत्यक्षदर्शियों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां उनका इलाज किया जा रहा है। ताजनगर इलाके में एहतियात के तौर पर बड़ी संख्या में पुलिस बल  तैनात कर दिया गया है। सिविल लाइंस थाना पुलिस ने दोनों गुटों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। छत्तीसगढ़ में लाख कोशिशों के बाद भी चाकूबाजी की घटनाओं पर रोक नहीं लग पा रही है। जबकि इस तरह की घटनाओं को रोकने लिए पुलिस लगातार अभियान चला रही है। खबरों की मानें तो पिछले 5 महीनों में करीब 8 सौ चाकू जब्त किए जा चुके हैं।

किराना दुकानों में नशे के उपयोग में आने वाला सिरप स्टिंग मिलना आम बात है। नशेड़ी स्टिंग में नशीली गोलिया डालकर पीते हैं। कोरोना काल में नकली शराब और सेनेटाइजर के भी नशा करने की कई खबरें सामने आती रही हैं।