कोरबा ट्रिपल मर्डर केस का एक आरोपी गिरफ्तार, दो फरार, रिश्तेदार पर लगा हत्या का आरोप

पूर्व उप मुख्यमंत्री प्यारेलाल कवंर के बेटे, बहू और पोती की हत्या के आरोप में पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है, गिरफ्तार आरोपी मृतक के बड़े भाई का साला है, जमीनी विवाद में हत्या की आशंका

Updated: Apr 21, 2021, 03:08 PM IST

कोरबा ट्रिपल मर्डर केस का एक आरोपी गिरफ्तार, दो फरार, रिश्तेदार पर लगा हत्या का आरोप
Photo courtesy: twitter

कोरबा। सनसनीखेज ट्रिपल मर्डर केस मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। पूर्व उप मुख्यमंत्री प्यारेलाल कवंर के बेटे और उनके परिवार की हत्या के आरोप में पुलिस ने मृतक के बड़े भाई के साले को गिरफ्तार किया है। वहीं हत्या में शामिल दो आरोपी फिलहाल फरार है। पुलिस उनकी तलाश में जुटी है।

कोरबा के भौसमा गांव में अविभाजित मध्य प्रदेश के पूर्व उप मुख्यमंत्री स्वर्गीय प्यारेलाल कवंर के बेटे हरीश कंवर, बहू सुमित्रा कंवर, पोती आशी कंवर की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई थी। इस मामले पर प्रदेश के गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने संज्ञान लेते हुए उच्च स्तरीय टीम को कार्रवाई के आदेश दिए थे।

घटना के चंद घंटों में ही पुलिस ने हत्या के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। प्रत्यक्षदर्शी मृतक की मां की निशानदेही पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया है। इस हत्याकांड में तीन लोग शामिल थे। उन्हीं में से पुलिस ने एक को गिरफ्तार किया है। आरोपी हत्यारा मृतक के बड़े भाई के साला है। वहीं अन्य दो फ़रार हैं। पुलिस गिरफ़्तार आरोपी से पूछताछ कर रही है। आरोपी की गिरफ्तारी की पुष्टि गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने की है। पुलिस जल्द ही अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी करने में जुटी है।

 

हरीश कंवर पहले कांग्रेस की राजनीति में सक्रिय थे।  बाद में उन्होंने अजीत जोगी की पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ ज्वाइन कर ली थी। जेसीसीजे से विधानसभा टिकट नहीं मिलने के बाद हरीश राजनीति से पूरी तरह अलग हो गए थे। पैतृक गांव भैसमा परिवार के साथ रहते थे और खेती और प्रापर्टी का बिजनेस करते थे। गौरतलब है कि हरीश कंवर की बहन हरेश कंवर वर्तमान में कोरबा जनपद अध्यक्ष के पद पर हैं। एसपी अभिषेक मीणा से मिली जानकारी के अनुसार मृतक हरीश प्रापर्टी बिक्री का काम भी करते थे। इस मामले से भी जोड़कर हम जांच की जा रही है। मामले का खुलासा जल्द किया जाएगा।

दरअसल अविभाजित मध्यप्रदेश के पूर्व उप मुख्यमंत्री प्यारेलाल कंवर के बेटे, बहू और 6 साल की पोती की हत्या बुधवार सुबह कर दी गई थी। अज्ञात हथियाबंद लोगों ने बुधवार सुबह घर पर धावा बोला और तीनों की धारदार हथियार से हत्या कर दी थी। बुधवार पांच बजे के करीब अज्ञात लोगों ने उनके घर पर धावा बोला और तीनों को मौत के घाट उतार दिया था।  हत्याकांड के वक्त घर पर हरीश कंवर की बुजुर्ग मां जीवन बाई कंवर थीं। 82 वर्षीय मां आवाज सुनकर दौड़ीं तो आरोपियों को धक्का देकर भाग गए।

इस हत्याकांड की खबर पाकर छत्तीसगढ़ के राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल और पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे थे। पुलिस की डॉग स्क्वायड की टीम जांच पड़ताल में जुटी थी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल समेत कांग्रेस के दिग्गज नेताओं ने वरिष्ठ कांग्रेस नेता के बेटे बहू और पोती की हत्या पर दुख जताया है। वहीं जेसीसीजे नेता अमित जोगी ने आरोपियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की मांग की है। फिलहाल पुलिस इस हाइ प्रोफाइल ट्रिपल मर्डर की जांच में जुटी है।