कड़वी हो गई शक्कर, जब छत्तीसगढ़ के कारोबारी को लगा 6 करोड़ का चूना

रायपुर के कारोबारी ने करोड़ों की चीनी का ऑर्डर दिया, महाराष्ट्र की फर्म ने एडवांस भी ले लिया, लेकिन शक्कर नहीं भेजी

Updated: Feb 21, 2021, 07:37 PM IST

कड़वी हो गई शक्कर, जब छत्तीसगढ़ के कारोबारी को लगा 6 करोड़ का चूना
Photo Courtesy : Business Today

रायपुर। रायपुर के एक कारोबारी के साथ ऐसी ठगी हुई कि मिठास देने वाली चीनी का सौदा कड़वा हो गया। ठगी गई रकम अगर छह करोड़ रुपये हो तो ऐसा होना स्वाभाविक है। ये चौंकाने वाली वारदात रायपुर में शक्कर के एक थोक कारोबारी के साथ हुई है। कारोबारी ने माना थाने में इस सिलसिले में FIR भी दर्ज करवाई है।

दरअसल रायपुर के डूमरतराई इलाके के एक थोक व्यापारी ने महाराष्ट्र के सोलापुर जिले की एक फर्म को 6 करोड़ रुपये की चीनी सप्लाई करने को कहा था। ऑर्डर लेने वाली कंपनी ने माल सप्लाई करने से पहले ही एडवांस ले लिया, लेकिन शक्कर आज तक नहीं भेजी। केस लगभग 2 साल पुराना है। इतने दिनों तक कारोबारी अपने स्तर पर रुपये वापस पाने की कोशिश में लगा रहा। लेकिन जब बात नहीं बनी, तो अब जाकर उसने इस मामले में FIR दर्ज कराई है।

रायपुर के गुढ़ियारी में रहने वाले कारोबारी आकाश पुगलिया की शिकायत पर माना थाने में महाराष्ट्र के सोलापुर जिले के कारोबारी हितेश मधु के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया गया है। आकाश पुगलिया के मुताबिक़ डूमरतराई में उनकी सेवा ट्रेडर्स के नाम से थोक की दुकान है। आकाश का कहना है कि महाराष्ट्र के मेसर्स हिंगलाज एंटरप्राइजेज के साथ वे 2016 से कारोबार कर रहे थे। हितेश मधु इसी फ़र्म का मालिक है। साल 2017 तक हिंगलाज एंटरप्राइजेज के साथ उनका कारोबार ठीक से चल रहा था। लेकिन 2018 में कई बार एडवांस लेने के बाद सामान की डिलीवरी में देरी होने लगी। फिर भी पहले से चले आ रहे कारोबारी रिश्तों के आधार पर आकाश और हितेश के बीच कारोबार चल रहा था।

आकाश के मुताबिक़ इसी दौरान उसने हिंगलाज एंटरप्राइज़ेज को शक्कर का बड़ा ऑर्डर दिया, जिसके एवज़ में उसने अलग-अगल किश्तों में एडवांस के तौर पर 6 करोड़ 91 लाख रुपए भी दिए। लेकिन आकाश के मुताबिक हितेश की कंपनी ने इन्हें क़रीब 6 करोड़ रुपये की शक्कर अब तक सप्लाई नहीं की। आकाश के मुताबिक़ ये मामला 27 फरवरी 2018 से अटका हुआ है। उनका कहना है कि हितेश मधु अब न तो माल दे रहा है और नहीं उनके रुपये लौटा रहा है। आकाश ने हितेश को पेमेंट एचडीएफसी बैंक के जरिए किया है, जिसकी पेमेंट स्लिप भी उसके पास हैं। अब पुलिस आकाश से मिली जानकारी के आधार पर मामले की पूरी छानबीन कर रही है। रायपुर के माना थाने की पुलिस ने इस सिलसिले में महाराष्ट्र पुलिस से भी संपर्क किया है।