[email protected]: लंदन के चौराहे पर लगेगी शाहरुख और काजोल की कांस्य मूर्तियां

‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ फिल्म ने रचा एक नया इतिहास, फिल्म के 25 साल पूरे, काजोल और शाहरुख खान की कांस्य मूर्ति लंदन की लीसेस्टर स्क्वायर पर स्थापित होगी

Updated: Oct 19, 2020, 06:47 PM IST

DDLJ@25: लंदन के चौराहे पर लगेगी शाहरुख और काजोल की कांस्य मूर्तियां

20 अक्टूबर को दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे फिल्म की रिलीज को पूरे 25 साल हो जाएंगे। दुनियाभर में राज और सिमरन की लव स्टोरी काफी पंसद की गई। इसकी पॉपुलैरिटी का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अपनी भारत यात्रा के दौरान राज और सिमरन की फिल्म का डायलाग अपने भाषण के दौरान बोला था, ओबामा ने भाषण के दौरान कहा, 'बड़े-बड़े देशों में छोटी-छोटी बातें होती रहती हैं।   

 

 

शाहरुख खान और काजोल की फिल्म डीडीएलजे के रिलीज की सिल्वर जुबली का जश्न देश के साथ विदेश में हो रहा है। लंदन के लिसेस्टर स्क्वायर पर सुपर स्टार शाहरुख खान और काजोल की कांस्य की मूर्तियां लगेंगी। फिल्म के एक सीन को लिसेस्टर स्क्वायर पर जगह मिलने जा रही है।

डीडीएलएजे उन फिल्मों में से एक है जो रिलीज के इतने साल बाद भी टीवी पर आए तो लोग उसे देखने से खुद को रोक नहीं पाते हैं। 20 अक्टूबर 1995 को रिलीज हुई फिल्म अपने 25 साल पूरे कर रही है। ऐसा पहली बार हुआ है कि यूनाइटेड किंगडम में किसी इंडियन फिल्म को इतना सम्मान मिला है।

फिल्म दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे मुंबई के मराठा मंदिर थिएटर में करीब 23 साल तक लगी रही। मुंबई सेंट्रल के मराठा मंदिर में रोजना सुबह 11:30 बजे केवल दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे ही दिखाई जाती थी। यहां यह फिल्म देखने देश विदेश से आते थे। इंडियन सिनेमा में टाकीज में लंबे समय तक चलने का रिकॉर्ड बना चुकी है। यश चोपड़ा के बेटे आदित्य चोपड़ा के डायरेक्शन में बनी इस फिल्म के सुपर हिट होने के बाद से काजोल और शाहरुख की जोड़ी को भी फिल्मों के लिए लकी माना जाने लगा। फिल्म में अमरीश पुरी, अनुपम खेर, फरीदा जलाल और मंदिरा बेदी भी नजर आए थे।