बालीवुड अभिनेता धर्मेंद्र बने अमेरिकी सीनेट से सम्मानित होने वाले पहले भारतीय एक्टर

अमेरिका की न्यूजर्सी स्टेट ने धर्मेंद्र को दिया लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड, एक्टर ने जताई खुशी बोले काफी गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं

Updated: Dec 25, 2020, 07:54 PM IST

बालीवुड अभिनेता धर्मेंद्र बने अमेरिकी सीनेट से सम्मानित होने वाले पहले भारतीय एक्टर
Photo Courtesy: stars unfolded

बॉलीवुड इंडस्ट्री के सदाबहार एक्टर्स में शुमार सुपरस्टार धर्मेंद्र को देश में ही नहीं विदेशों में भी लोग उतना ही पसंद करते हैं। 85 साल के धर्मेंद्र को हिंदी सिनेमा में उनके योगदान के लिए अमेरिका के न्यू जर्सी सीनेट की ने लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड से नवाजा है। बताया जा रहा है कि अमेरिका के न्यू जर्सी सीनेट और जर्नल असेंबली में संयुक्त विधायी प्रस्ताव पारित हुआ, फिर दोनों सदनों की सर्वसम्मति के बाद यह सम्मान दिया गया है। इस अवार्ड से सम्मानित होने पर धर्मेंद्र ने खुशी जताई है। उन्होंने कहा कि वे यह सम्मान पाकर काफी गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।

 किसी भी एक्टर को अमेरिकी सीनेट की तरफ से पहली बार सम्मानित करना ऐतिहासिक है। भारतीय सिनेमा को अंतर्राष्ट्रीय मान्यता दिलाने में धर्मेंद्र के योगदान को दुनिया याद रखेगी।

1960 में धर्मेंद्र अपने करियर की शुरूआत 'दिल भी तेरा हम भी तेरे' से की थी। धर्मेंद्र को बॉलीवुड का पहला एक्शन हीरो कहा जा सकता है। वे कॉमेडी, एक्शन और रोमांटिक रोल्स भी बखूबी निभाते रहे हैं। 85 साल की उम्र में भी वे फिट हैं और कई फिल्मों में नजर आते रहते हैं। धर्मेंद्र करीब 200 से ज्यादा फिल्मों में काम कर चुकें हैं। उनकी पहचान ओपी रल्हन की फिल्म फूल और पत्थर से मिली। उन्होंने अनुपमा, मँझली दीदी, सत्यकाम, शोले और चुपके चुपके जैसी फिल्मों में काम किया है। शोले का मौसी जी डायलाग आज भी लोगों की जुबान पर है।

हाल ही में उन्होंने सोशल मीडिया पर बताया है कि वे फिल्म 'अपने' का सीक्वल 'अपने 2' की तैयारी कर रहे हैं। जिसमें देओल परिवार की तीन पीढ़ियां नजर आने वाली हैं। धर्मेंद्र अपने दोनों बेटों और पोते नजर आएंगे। इसके लिए सनी देओल, बॉबी देओल और करण देओल ने तैयारी शुरु कर दी है। तीन पीढ़ियों को एक साथ सिल्वर स्क्रीन शेयर करते देखने के लिए फैंस भी बेताब हैं।

धर्मेंद्र का कहना है कि वे बॉलीवुड में पैसे कमाने नहीं आए थे। वे लोगों के दिलों में जगह बनाना चाहते थे। अब लोग उन्हें अपना भाई दोस्त समझते हैं। जिससे उन्हें खुशी होती है। वो सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं, और विभिन्न मुद्दों पर अपने ओपीनियन शेयर करते रहते हैं।