सरकारी धान की कस्टम मिलिंग नहीं करने पर दो राइस मिल्स पर कार्रवाई, 3 करोड़ 35 लाख की धान, चावल, कनकी जब्त

खाद्य विभाग ने दो राइस मिलों पर की कार्रवाई, करार के हिसाब से काम नहीं करने का आरोप, समय पर उठाव नहीं होने से भीग रही है धान, राइस मिल्स से 6158 क्विंटल धान, 3616 क्विंटल चावल एवं 9750 क्विंटल कनकी जब्त

Updated: Jun 19, 2021, 03:28 PM IST

सरकारी धान की कस्टम मिलिंग नहीं करने पर दो राइस मिल्स पर कार्रवाई, 3 करोड़ 35 लाख की धान, चावल, कनकी जब्त
Photo Courtesy: lalluram

राजनांदगांव। जिला खाद्य विभाग ने कलेक्टर के आदेश पर दो राइस मिलों पर कार्रवाई की है। दोनों राइस मिलों पर आरोप है कि इन्होंने एग्रीमेंट से कम काम किया है, एक पर 57 प्रतिशत और दूसरी पर 60 फीसदी कम काम करने का आरोप है। प्रशासन की ओर से सीएम एग्रो इंडस्ट्रीज और सुरेश राइस मिल से लगभग 3 करोड़ 35 लाख कीमत की धान, चावल और चावल की कनकी जब्त की है। दोनों पर काम में देरी और लापरवाही के आरोप लगा है।

दोनों राइस मिल्स ने सप्ताह भर से धान का उठाव नहीं किया है। दरअसल खरीदी केंद्रों से ही राइस मिल्स में धान पहुंचती है, पहले तो मिलों ने सरकार के करार कर लिया अब खरीदी केंद्रों से माल का उठाव नहीं कर रही हैं। जिसकी वजह से खुले में पड़ी धान खराब होने लगी भी। बारिश में भीग जाने से धान में अंकुरण होने लगा है, और वह सड़ने लगी है। दोनों राइस मिलर्स पर लापरवाही के आरोप में नियमानुसार कार्रवाई की गई है।

दोनों राइस मिलर्स पर अनियमितता के आरोप लगते रहे हैं। राजनांदगांव कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने निर्देश दिया था कि जो राइस मिलर्स काम में गड़बड़ी करे उस पर सख्त एक्शन लिया जाए। कलेक्टर के निर्देश पर खाद्य विभाग की टीम ने राइस मिलों की जांच की जिसमें सीएम एग्रो इंडस्ट्रीज में गड़बड़ी मिली।

इस मिल द्वारा 6 महीने की मिलिंग क्षमता के अनुसार 96 हजार क्विंटल का एग्रीमेंट किया, लेकिन केवल 42 हजार 544 क्विंटल धान का ही उठाव किया। कुल मिलाकर 57 फीसदी काम अधूरा छोड़ दिया।

सप्ताह भर से धान का उठाव नहीं हो रहा था। अनियमितता की वजह से करीब 1560 क्विंटल धान, 580 क्विंटल चावल और इस चावल से निकली 8500 क्विंटल जब्त कनकी जब्त की गई। इस जब्त किए गए अनाज की कीमत 1 करोड़ 65 लाख रुपए है।

वहीं सुरेश राइस मिल से 1 करोड़ 70 लाख रुपए का माल जब्त किया गया। इस मिल ने 6 महीने में 2 लाख 16 हजार क्विंटल का एग्रीमेंट किया था, लेकिन 60 प्रतिशत काम अधूरा छोड़ दिया। मिल द्वारा केवल 90 हजार 919 क्विंटल धान का उठाव किया। यहां से 4598 क्विंटल धान एवं 3036 क्विंटल चावल और 1250 क्विंटल कनकी जब्त की और प्रोपराइटर को सौंप दिया। 

और पढ़ें: राजनांदगांव में बारिश की भेंट चढ़ी करोड़ों रुपए का धान

इस प्रकार दोनों राइस मिलों से कुल 6158 क्विंटल धान, 3616 क्विंटल चावल एवं 9750 क्विंटल कनकी जब्त किया गया, जिसकी कुल अनुमानित कीमत 3 करोड़ 35 लाख 95 हजार रुपए की राशि है।