लैंगिक समानता की दिशा में BCCI का बड़ा कदम, पुरुष क्रिकेटर्स के बराबर हुई महिला खिलाडियों की फीस

BCCI ने बड़ा ऐलान करते हुए भारतीय महिला क्रिकेट टीम की मैच फीस को भी पुरुष क्रिकेटरों के बराबर कर दिया है। बीसीसीआई सचिव जय शाह ने गुरुवार को इसका ऐलान किया।

Updated: Oct 27, 2022, 03:22 PM IST

लैंगिक समानता की दिशा में BCCI का बड़ा कदम, पुरुष क्रिकेटर्स के बराबर हुई महिला खिलाडियों की फीस

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने लैंगिक समानता के दिशा में बड़ा कदम उठाया है।बीसीसीआई ने घोषणा की है कि महिला  क्रिकेटरों को अब पुरुष खिलाड़ियों जितनी ही मैच फीस दी जाएगी। बोर्ड के इस ऐलान ने क्रिकेट जगत को चौंका दिया है। देशभर में लोग इस फैसले का स्वागत कर रहे हैं।

बीसीसीआई सेक्रेटरी जय शाह ने गुरुवार को इसका ऐलान करते हुए कहा कि, 'मुझे लैंगिंग समानता की दिशा में पहला कदम उठाते हुए खुशी हो रही है। हम भारतीय महिला टीम के अनुबंधित खिलाड़ियों के लिए बराबर की नीति लागू कर रहे हैं। हम क्रिकेट में लैंगिक समानता की दिशा के नए युग में प्रवेश कर रहे हैं। और हम पुरुष और महिला क्रिकेटरों  को बराबर मैच फीस का भुगतान किया जाएगा।'

इस फैसले के बाद अब महिला क्रिकेट खिलाड़ियों को हर टेस्ट खेलने के लिए 15 लाख रुपये मिलेंगे। एक वनडे खेलने के लिए 6 लाख और टी20 मैच के लिए उन्हें 3 लाख रुपये मिलेंगे। इससे पहले, भारतीय महिला क्रिकेट टीम की खिलाड़ियों की टेस्ट के लिए 4 लाख रुपये बतौर मैच फीस मिलते थे। जबकि वनडे और टी20 के लिए एक लाख रुपये मिलते थे। लेकिन, बीसीसीआई के फैसले के बाद अब महिला खिलाड़ियों को पहले के मुकाबले कई गुना मैच फीस मिलेगी।

यह भी पढ़ें: आस्था के नाम पर अंधविश्वास: उज्जैन में खुशहाली के लिए इंसानों के ऊपर दौड़ाई गईं गौ माता

पहले जहां एक टेस्ट के लिए महिला क्रिकेटर को 4 लाख रुपये मिलते थे अब यह राशि बढ़कर 15 लाख हो गई है। यानी 4 गुना का इजाफा हुआ है. वहीं, वनडे के लिए अब 1 लाख के मुकाबले 6 लाख रुपये मिलेंगे। यानी महिला क्रिकेट खिलाड़ियों की वनडे की मैच फीस भी 6 गुना बढ़ गई है। टी20 की मैच फीस भी तीन गुना बढ़ी है।

बीसीसीआई ने अनुबंधित महिला क्रिकेट खिलाड़ियों को पुरुषों के बराबर मैच फीस देने का फैसला तो कर लिया है। लेकिन, अभी भी महिला खिलाड़ियों की एनुअल रिटेनर फीस में कोई बदलाव नहीं हुआ है। पुरुषों के मुकाबले महिलाओं को मिलने वाली रकम में जमीन आसमान का फर्क है। फिलहाल, महिला क्रिकेटर को सबसे अधिक 50 लाख रुपये रिटेनर फीस के तौर पर मिलते हैं।