इजरायल और फिलिस्तीन के बीच युद्धविराम, हमास ने किया जीत का दावा, जश्न में डूबे लोग

11 दिनों के तक खून-खराबे के बाद इजरायल और फिलिस्तीन के बीच हुई शांति बहाली, गाजा पट्टी में 232 लोगों की मौत, दो हजार से अधिक घायल

Updated: May 21, 2021, 10:23 AM IST

इजरायल और फिलिस्तीन के बीच युद्धविराम, हमास ने किया जीत का दावा, जश्न में डूबे लोग
Photo Courtesy: NDTV

गाजा। इजरायल और फिलिस्तीन के बीच पिछले 11 दिनों से चल रहा खूनी संघर्ष आख़िरकार थम गया है। दोनों देशों के बीच सीजफायर यानी युद्धविराम पर सहमति बन गई है। बताया जा रहा है कि शुक्रवार को तड़के सुबह 2 बजे इसे लागू कर दिया गया। सीजफायर के ऐलान के बाद गाजा पट्टी में हजारों लोग जश्न मनाने सड़कों पर उतर गए। 

गाजा शहर में जश्न मना रहे लोगों को संबोधित करते हुए हमास के एक वरिष्ठ नेता ने इस संघर्ष में हमास की जीत होने का दावा किया है। गाजा पट्टी में इस्लामी आंदोलन के राजनीतिक ब्यूरो के दूसरे सबसे वरिष्ठ सदस्य खलील अल हया ने कहा, 'यह जीत का उत्साह है।' उन्होंने इजरायल के हवाई हमले में बर्बाद हुई इमारतों के पुनर्निर्माण का ऐलान भी किया है। बता दें कि इजरायली हमले के दौरान गाजा में कई बड़े इमारत जमींदोज हो गईं हैं, जिसकी वजह से करीब 1 लाख 20 हजार लोगों को विस्थापित होना पड़ा है।

यह भी पढ़ें: अल जजीरा, AP समेत कई मीडिया के ऑफिस पलक झपकते धराशाई, गाजा पट्टी पर इजरायल ने की एयरस्ट्राइक

बताया जा रहा है कि इजरायल और हमास के बीच पिछले कई दशक में यह सबसे भीषण संघर्ष था। हमास ने 11 दिनों के भीतर करीब 4,300 से ज्यादा रॉकेट्स दागे। इस दौरान इजरायल ने भी मिसाइलों और बमों की वर्षा से गाजा पट्टी को तबाह कर दिया। गाजा के स्वास्थ्य विभाग ने बताया है कि 10 मई से शुरू हुए हमले में कुल 232 फिलिस्तीनी नागरिक मारे गए। इनमें 39 महिलाएं और 65 बच्चे शामिल हैं। इस दौरान करीब दो हजार लोग घायल भी हुए हैं।

हमास की ओर से छोड़े गए रॉकेट्स से इजरायल में 12 लोगों की मौत हुई और सैंकडों लोग घायल हुए हैं। संघर्ष विराम के ऐलान के बाद इजरायल ने भी अपनी जीत का दावा किया है। माना जा रहा है कि सीजफायर के लिए इजरायल अंतरराष्ट्रीय दबाव के बाद राजी हुआ है। हालांकि, दोनों देशों के बीच मिस्र ने मध्यस्थता की। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने मिस्र के प्रयास की प्रशंसा की है।