जापानी प्रिंसेस ने कॉलेज दोस्त से रचाई शादी, राजकुमारी की पदवी और रॉयल फैमिली को कहा अलविदा

शादी के बंधन में बंधी जापानी प्रिंसेस माको, अकूत संपति और रॉयल मनी छोड़ी, शादी के बाद नहीं होगा कोई जश्न, आम इंसान की तरह अमेरिका में बिताएंगी जिंदगी

Updated: Oct 26, 2021, 04:00 PM IST

जापानी प्रिंसेस ने कॉलेज दोस्त से रचाई शादी, राजकुमारी की पदवी और रॉयल फैमिली को कहा अलविदा
Photo Courtesy: Instagram

हिंदी फिल्मों के एक फेमस डायलाग है लव के लिए कुछ भी करेगा, जी हां सच्चा प्यार पाने के लिए प्रेमी धरती आकाश एक कर देते हैं। उन्हें अपने प्यार के आगे कुछ नहीं सूझता, वे उसके लिए दुनिया भर के ऐश-ओ-आराम छोड़ने को तैयार रहते हैं। इस बात की जीती जागती मिसाल पेश की है जापान की राजकुमारी माको ने। प्रिंसेस ने अपने कॉलेज के दोस्त केई कोमुरो से शादी करने के लिए अपना राजकुमारी का दर्जा छोड़ दिया है। कोमुरो एक सामान्य परिवार से आते हैं। वे एक अमेरिकी लॉ कंपनी में काम करते हैं। माको और कोमुरो का अफेयर 2013 से चल रहा था। कोमुरो ने 9 साल पहले राजकुमारी को प्रपोज किया था।

 रॉयल फैमिली में विवाद की वजह से लंबे समय से शादी अटकी हुई थी। कई उतार चढ़ाव के बाद आखिरकार कोमुरो और माको की शादी रजिस्टर्ड हो गई है। अब कपल अमेरिका में बसने की तैयारी में है।

महल छोड़ते वक्त भावुक हुई बहन माको को लगाया गले

मंगलवार सुबह दुल्हन बनीं माको लाइट ब्लू कलर की रंग की ड्रेस और फूलों का गुलदस्ता लिए रॉयल पैलेस बाहर निकलीं। उन्हें बाहर तक छोड़ने के लिए उनके माता-पिता, क्राउन प्रिंस अकिशिनो और क्राउन प्रिंसेस किको भी वहां मौजूद थीं। प्रिंसेज किको ने पैलेस छोड़ते वक्त अपनी बहन को गले से लगा लिया। यहां से जाने के बाद शादी की कागजी कार्रवाई हुई। जिसके बाद दोनों की शादी के कागजात पर मुहर लगा दी गई। जापान की राजकुमारी का कोई वेडिंग रिसेप्शन नहीं करने का ऐलान किया गया है।

 

शादी होते ही छिनी राजकुमारी की पदवी

रॉयल फैमिली से बाहर शादी की वजह से माको अब जापानी राजकुमारी नहीं रहीं। उनकी शादी के रजिस्ट्रेशन होने के साथ ही उनसे प्रिंसेस का दर्जा छिन गया। दरअसल जापानी शाही परिवार के नियम शादी को लेकर बेदह सख्त हैं। यहां का नियम है कि अगर रॉयल फैमिली की लड़कियां किसी आम आदमी से शादी करेंगी तो उनसे राजकुमारी का पद छीन लिया जाएगा। साथ ही उन्हें शाही परिवार भी छोड़ कर जाना पड़ेगा। मीडिया रिपोर्ट्स का दावा है कि जापानी राजकुमारी माको ने अपनी सारी धन-दौलत, अकूत संपत्ति छोड़ कर अपने ब्याय फ्रेंड से साधारण तरीके से शादी रचाई है।

प्यार के लिए ठुकराई करोड़ों की संपत्ति

जापानी प्रिंसेस माको और उनके पति केई कोमुरो करीब 30 वर्ष के हैं। दोनों ने चार साल पहले सगाई की घोषणा की थी। आम आदमी से राजकुमारी की शादी को लेकर काफी विवाद की स्थिति बनी थी। जिसके बाद राजकुमारी माको की शादी टाल दी गई थी। 2018 में राजकुमारी के मंगेतर केई कोमुरो लॉ की पढ़ाई करने के लिए न्यूयॉर्क चले गये थे। उनके लौटने के बाद अब दोनों की शादी हो पाई है। जापानी रॉयल फैमिली की ओर से राजकुमारी माको को 14 करोड़ रुपये ऑफर हुआ था, जिसे लेने से माको ने इनकार कर दिया है। बताया जा रहा है कि राजकुमारी माको ने इसके हकदार होने के बाद भी राशि ठुकरा दी। वे पूरी तरह से आम नागरिक की तरह अपने पति के साथ घर बसाकर जीवन बिताना चाहती हैं।

राजकुमारी की बुआ भी कर चुकी हैं आम आदमी से शादी

माको की बुआ 2005 में राजुकमारी की पदवी छोड़ चुकी हैं। सयाको ने टोक्यो के एक ऑफिसर से शादी रचाई थी। जापानी शाही परिवार के नियमों के अनुसार केवल पुरुष उत्तराधिकारी ही रॉयल फैमिली से बाहर जाकर शादी कर सकते हैं। जबकि रॉयल फैमिली की महिला सदस्यों को आम इंसान से शादी करने पर राजकुमारी की पदवी छोड़नी पड़ती है। इसके पीछे का कारण बताया जाता है कि इससे सिंहासन के उत्तराधिकारियों की कमी हुई है। माको जापान के राजा नारुहितो की भतीजी हैं। नारुहितो के बाद उत्तराधिकारियों में केवल उनके बेटे अकिशिनो और प्रिंस हिसाहिटो ही हैं।