भारत जोड़ो उपयात्रा के दौरान दिखी गंगा-जमुनी तहजीब, MLA आरिफ मसूद ने मां नर्मदा को अर्पित की चुनरी

जनता में आपसी नफरत खत्म कर हम 2023 में पूर्ण बहुमत से बनाएंगे सरकार: नर्मदापुरम में बोले कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद

Updated: Nov 14, 2022, 12:12 PM IST

भारत जोड़ो उपयात्रा के दौरान दिखी गंगा-जमुनी तहजीब, MLA आरिफ मसूद ने मां नर्मदा को अर्पित की चुनरी

नर्मदापुरम। मध्य प्रदेश में भारत जोड़ो यात्रा के प्रवेश से पहले राज्यभर में कई उपयात्राएं चल रही है। इसी क्रम में भोपाल मध्य से कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद भोपाल से बुरहानपुर तक एक यात्रा निकाली है। इसका नाम उन्होंने "भारत जोड़ो, संविधान बचाओ" यात्रा रखा है। तीसरे दिन जब यह यात्रा नर्मदापुरम पहुंची तो वहां गंगा-जमुनी तहजीब का अद्भुत मिसाल देखने को मिली।

दरअसल, रविवार को यात्रा नर्मदा नदी के सेठानीघाट पहुंची। यहां यात्रियों ने स्नान कर मां नर्मदा का विधिवत पूजन किया। इस दौरान विधायक आरिफ मसूद ने मां नर्मदा को 108 फीट लंबी चुनरी अर्पित की। इस दौरान जिला कांग्रेस अध्यक्ष सत्येंद्र फौजदार सहित अन्य पदाधिकारी व सैंकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे। यहां से दोपहर बाद यात्रा बुरहानपुर के लिए रवाना हो गई। यात्रा में 130 सदस्य शामिल हैं।

आरिफ मसूद ने यहां मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि, 'मुख्यमंत्री के गांव बुधनी के पास में स्थित नर्मदापुरम की हालत इतनी खराब है। यहां विकास नाम की कोई चीज नहीं दिखाई देती। सेठानीघाट ही दुर्दशा का शिकार है। यहां स्नानार्थियों की सुरक्षा के लिए जालियां तक नहीं लगी है। यदि पैर फिसल जाए व्यक्ति चला जाए तो इसका जिम्मेदार कौन होगा। मां नर्मदा से प्रार्थना की है कि वह भाजपा को सद्बुद्धि दे, ताकि देश-प्रदेश में आपसी सदभाव, अमन-चैन कायम रहे।'

विधायक मसूद ने आगे कहा कि, 'ये यात्रा इसलिए निकाली जा रही है क्योंकि देश-प्रदेश में भाजपा की सरकारें लोगों में नफरत की बुनियाद पर एक-दूसरे को अलग कर रही है। आज नौजवान, किसान सब परेशान हैं। नौकरी-रोजगार और खाद-बिजली तक नहीं मिल रही है। मौलिक अधिकार ही छीने जा रहे हैं। देश में हजारों-लाखों युवाओं-किसानों की आत्महत्या के लिए भाजपा की सरकारें ही जिम्मेदार है।'