भोपाल के शादी समारोहों के लिए कलेक्टर ने जारी किए दिशानिर्देश

भोपाल के कलेक्टर की अपील, शादी समारोह में ज्यादा देर नहीं रुकें, दूल्हा-दुल्हन को दूर से दें आशीर्वाद, ऑनलाइन गिफ्ट और शगुन से कम होगा संक्रमण का खतरा

Updated: Dec 02, 2020, 06:45 PM IST

भोपाल के शादी समारोहों के लिए कलेक्टर ने जारी किए दिशानिर्देश
Photo Courtesy: DNA

भोपाल। लगातार कोरोना के बढ़ते मामलों और शादी समारोह को लेकर भोपाल कलेक्टर अविनाश लवानिया ने जनता से अपील की है। कलेक्टर ने शादी कार्यक्रम में शामिल होने वाले मेहमानों से कहा है कि वे कार्यक्रम के दौरान दूल्हा-दुल्हन को छूने से बचें। जहां तक संभव हो शादी का शगुन और गिफ्ट ऑनलाइन भेजें। शादी कार्यक्रम के दौरान एक साथ भीड़ लगाकर खड़े ना हों।

 शहरवासियों से सहयोग की अपील करते हुए कलेक्टर अविनाश लवानिया ने शादी समारोह के लिए दिशा-निर्देश भी जारी किए हैं। जिसमें कहा गया है कि जहां तक संभव हो तो खुले स्थानों पर ही कार्यक्रम किया जाए। समारोह स्थल के ऐंट्री गेट पर हाथ धोने या सैनिटाइजर का इंतजाम किया जाए। कार्यक्रम स्थल पर जगह-जगह कोविड-19 गाइडलाइन्स को लगाया जाए। शादी समारोह में जहां तक संभव हो मेहमान और दूल्हा-दुल्हन को छूने बचा जाए।

शादी स्थल पर लगे कुर्सी, सोफे और सीट कवर, कालीनों की नियमित रूप से सफाई हो या फिर उन्हें बदला जाए। मेहमान सीढ़ियों के हैंडल छूने से बचें । शादी समारोह का लाइव प्रसारण किया जाए। शादी स्थल पर भी स्क्रीन लगाई जाए, ताकि मंडप में एक साथ ज्यादा लोग जमा नहीं हों। खाना खाने के दौरान छह फीट की दूरी पर बैठकर भोजन करने की व्यवस्था हो। खाना परोसने वाले चम्मच को छूने से बचें, वेटर को ही परोसने के लिए कहें। रिटर्न गिफ्ट को खोलने से पहले किसी खुली हवादार जगह पर रखने और सेनेटाइज कर के खोलने की सलाह दी गई है।

कलेक्टर ने अपील की है कि शादी समारोह में लोग कम से कम समय के लिए ही रहें। अपनी गाड़ी खुद पार्क करें, अपना मास्क और सैनिटाइजर खुद साथ लेकर जाएं। जहां तक संभव हो किसी अन्य के मोबाइल, चाबी के बार-बार प्रयोग से बचें और उपयोग करना ही पड़े तो पहले उन्हें सैनिटाइज जरूर कर लें। कार्यक्रम में कोरोना वायरस का फैलाव रोकने के लिए जोर-जोर से बोलने और हंसने और ग्रुप बनाकर बातचीत करने से बचें। दूल्हा-दुल्हन को दूर से ही आशीर्वाद और शुभकामनाएं दें। विवाह समारोह में अक्सर एक ही माइक का प्रयोग संगीत के दौरान किया जाता है, ऐसा करने से बचें।

गौरतलब है कि भोपाल में रोजाना 300 से अधिक कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आ रहे हैं। शहर में रोजाना सैकड़ों शादियां हो रही हैं। ऐसे में कोविड 19 संक्रमण बढ़ने का खतरा है। लोगों को जागरुक करने के लिए भोपाल कलेक्टर अविनाश लवानिया ने लोगों से सहयोग की अपील की है। आपको बता दें कि भोपाल में शादी समारोह में अधिकतम 100 लोगों को बुलाने की इजाजत है।