मामूली विवाद में सुरक्षा गार्ड ने सुपरवाइजर की हत्या की, भोपाल के निर्माण भवन में लगे CCTV में कैद वारदात

निजी सुरक्षा एंजेसी के कर्मचारियों में विवाद, सुरक्षा गार्ड ने अपने सीनियर पर लाइसेंसी बंदूक से चलाई गोली, सुपरवाइजर ने गार्ड को ठीक से ड्यूटी करने की दी थी नसीहत

Updated: Sep 30, 2021, 12:47 PM IST

मामूली विवाद में सुरक्षा गार्ड ने सुपरवाइजर की हत्या की, भोपाल के निर्माण भवन में लगे CCTV में कैद वारदात
Photo Courtesy: Bhaskar

भोपाल। गुरुवार सुबह अरेरा हिल्स इलाके में एक सुरक्षा एजेंसी के गार्ड ने अपने ही सुपरवाइजर की हत्या कर दी। गार्ड ने सुपरवाइजर पर लाइसेंसी बंदूक से दो गोलियां दागी, जिससे वह गंभीर रुप से घायल हो गया। सीने में गोलियां लगने की वजह से खून से लथपथ अवस्था में उसे जेपी अस्पताल ले जाया गया। जहां उसकी मौत हो गई।

गोलियों की आवाज सुनकर वहां अफरा तफरी मच गई। आसपास के लोग वहां पहुंचे और पुलिस को खबर दी, जिसके बाद सुपरवाइजर को गंभीर अवस्था में अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। गोली मारने की यह घटना वहां लगे CCTV में कैद हो गई है। जिसमें आरोपी गार्ड की करतूत कैद हो गई है। उसे साफ तौर पर फायरिंग करते देखा जा सकता है।

बताया जा रहा है कि सुपरवाइजर और गार्ड में ड्यूटी को लेकर कुछ विवाद हुआ था। सुपरवाइजर ने काम में लापरवाही को लेकर गार्ड को डांटा था, और समझाइश देकर ठीक से काम करने की नसीहत दी थी। जिससे नाराज आरोपी ने सुपरवाइजर पर गोलियां दाग दीं।

 50 वर्षीय राजकुमार ठाकुर और आरोपी महेंद्र तिवारी सर्वोदय सिक्योरिटी एजेंसी के लिए काम करते थे। राजकुमार सुपरवाइजर थे और महेंद्र तिवारी सुरक्षा गार्ड के तौर पर काम कर रहा था। आरोपी महेंद्र सेना का रिटायर्ट जवान है। पुलिस ने आरोपी महेंद्र को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी से पूछताछ की जा रही है।