सांसद प्रज्ञा ठाकुर की सद्बुद्धि के लिए भोपाल में पूजा-पाठ, नर्मदा के जल से किया गया शुद्धिकरण

कल कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा ने प्रज्ञा ठाकुर की सद्बुद्धि के लिए कराया था यज्ञ, आज महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष के नेतृत्व में महिलाओं ने किया पूजा-पाठ, भगवान से प्रज्ञा ठाकुर को सद्बुद्धि देने की प्रार्थना

Updated: Oct 18, 2021, 05:14 PM IST

सांसद प्रज्ञा ठाकुर की सद्बुद्धि के लिए भोपाल में पूजा-पाठ, नर्मदा के जल से किया गया शुद्धिकरण
Photo Courtesy : Naidunia

भोपाल। बीजेपी की बड़बोली सांसद प्रज्ञा ठाकुर अपने विवादित बयानों को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहती हैं। भोपाल के लोगों ने अब अपने सांसद की सद्बुद्धि के लिए पूजा-पाठ करना शुरू कर दिया है। सोमवार को दर्जनों महिलाओं ने सांसद प्रज्ञा ठाकुर की तस्वीर का पहले नर्मदा जल से शुद्धिकरण कराया उसके बाद मंत्रोच्चार के साथ प्रज्ञा की सद्बुद्धि के लिए भगवान से प्रार्थना की।

जानकारी के मुताबिक साध्वी की सद्बुद्धि के लिए पूजा पाठ का यह आयोजन भोपाल महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष संतोष कंसाना के नेतृत्व में किया गया था। इस दौरान पूरे विधि विधान के साथ भगवान का पूजा कर स्थानीय महिलाओं ने प्रज्ञा के लिए सद्बुद्धि मांगी। संतोष कंसाना ने इस आयोजन को लेकर बताया कि भोपाल सांसद की बुद्धि भ्रष्ट हो गई है। ऐसे में स्थानीय महिलाओं ने पूजा-पाठ करने की इच्छा जताई थी ताकि भगवान उसे बुद्धि दें। महिलाओं के कहने पर हमने कांग्रेस मुख्यालय के बाहर प्रज्ञा का शुद्धिकरण कर मंत्रोच्चार के माध्यम से उसके लिए बुद्धि मांगी।

यह भी पढ़ें: CM के सामने महिला प्रत्याशी के साथ अशोभनीय व्यवहार, आरोपी मंत्री का हनीट्रैप से भी जुड़ चुका है नाम

कल प्रज्ञा के लिए हुए था सद्बुद्धि यज्ञ

बता दें कि कल ही भोपाल सांसद के लिए सद्बुद्धि यज्ञ कराया गया था। पूर्व मंत्री पीसी शर्मा के नेतृत्व में कल बड़े स्तर पर यज्ञ और हवन की व्यवस्था की गई थी। इस दौरान पारंपरिक तरीकों से पुजारियों ने यज्ञ कगया और भगवान से प्रज्ञा की सद्बुद्धि की कामना की गई। यज्ञ के बाद पीसी शर्मा भोपाल सांसद की तस्वीर लेकर नाव में बैठ बड़े-तालाब के बीच में गए। यहां नर्मदा जल से प्रज्ञा ठाकुर का सांकेतिक शुद्धिकरण किया गया। 

दरअसल, प्रज्ञा ठाकुर ने विजयादशमी के मौके पर भोपाल स्थित एमवीएम ग्राउंड में आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। आरोप है कि प्रज्ञा ने सद्भावना मंच से न केवल कांग्रेस नेताओं को गालियां दी बल्कि मां नर्मदा के परिक्रमा करने वालों को पापी भी बताया। कांग्रेस ने इसे मां नर्मदा और नर्मदा भक्तों का अपमान बताया है। इसके बाद कांग्रेस कार्यकर्ता जगह जगह सांसद की सद्बुद्धि के लिए पूजा-पाठ करवा रहे हैं।