भोपाल में पूर्व मंत्री पीसी शर्मा गिरफ्तार, महंगाई के खिलाफ कर रहे थे प्रदर्शन

पूर्व मंत्री पीसी शर्मा के साथ 10 और कांग्रेस कार्यकर्ता भी गिरफ्तार करके नई जेल भेजे गए, पेट्रोल-डीज़ल-रसोई गैस के बढ़ते दामों के ख़िलाफ़ कांग्रेस ने आज किया है मध्य प्रदेश बंद का एलान

Updated: Feb 20, 2021, 11:31 AM IST

भोपाल में पूर्व मंत्री पीसी शर्मा गिरफ्तार, महंगाई के खिलाफ कर रहे थे प्रदर्शन
Photo courtesy: twitter/ ani

भोपाल। कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री पी सी शर्मा को आज भोपाल में महंगाई के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान गिरफ्तार कर लिया गया। उनके साथ ही दस और कांग्रेस कार्यकर्ताओं को भी गिरफ्तार किया गया है। कांग्रेस ने आज पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस के आसमान छूते दामों के खिलाफ मध्य प्रदेश बंद का एलान किया है।

पुलिस ने पीसी शर्मा और उनके साथ ही गुड्‌डू चौहान समेत 10 अन्य कार्यकर्ताओं को उस वक्त गिरफ्तार करके नई जेल भेज दिया, जब वे बंद के दौरान बिटट्न मार्केट में प्रदर्शन कर रहे थे। उनके साथ बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद थे।

 

पुलिस ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर बिट्टन मार्केट में जबरन दुकानें बंद करवाने का आरोप लगाया है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हबीबगंज थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर जबरन बस में भरा और फिर नई जेल भेज दिया। इस दौरान पुलिस और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच तीखी नोकझोंक भी हुई। 

कांग्रेस के बंद के एलान का भोपाल में काफी असर देखा जा रहा है। तमाम दुकानें और बाजार बंद हैं। कांग्रेस ने बंद की कामयाबी को दर्शाने वाला एक वीडियो भी ट्विटर के जरिए शेयर किया है। इस वीडियो में भोपाल के न्यू मार्केट पूरी तरह बंद नज़र आ रहा है। 

 

 

 

और पढ़ें: आज कांग्रेस का मध्य प्रदेश बंद, पेट्रोल-डीज़ल की महंगाई का विरोध

देश में पेट्रोल, डीजल और एलपीजी गैस के दामों में बढ़ोतरी के खिलाफ मध्य प्रदेश कांग्रेस शनिवार को पूरे मध्यप्रदेश में प्रदर्शन कर रही है। दोपहर दो बजे तक बंद का अह्वान किया गया है। मध्य प्रदेश कांग्रेस लोगों से सहयोग करने और दो बजे तक प्रतिष्ठानों को बंद करने की अपील की थी। इस बारे में शुक्रवार को पीसीसी चीफ कमलनाथ ने एक वीडियो संदेश जारी किया था। लोगों से अपील की थी कि डीजल, पेट्रोल और रसोई गैस की आसमान छूती कीमतों के कारण लोग संकट में हैं। सरकार राजस्व जमा करने में बिजी है जनता परेशान हो रही है। प्रदेश की जनता से अपील की थी कि बंद में सहयोग करें।