दूध-मावा में मिलावट के खिलाफ भोपाल में प्रदर्शन, मिलावटखोरों को फांसी देने की उठी मांग

भोपाल में दूध, मावा, चावल-दाल जैसी खाद्य सामग्री में मिलावट पर बच्चे-बुजुर्ग सड़कों पर उतर गए, उन्होंने मिलावटखोरों को फांसी दो के नारे लगाए

Updated: Oct 09, 2022, 06:20 PM IST

दूध-मावा में मिलावट के खिलाफ भोपाल में प्रदर्शन, मिलावटखोरों को फांसी देने की उठी मांग

भोपाल। त्योहारों के सीजन में मध्य प्रदेश में दूध-मावा समेत अन्य खाद्य सामग्री में बड़े स्तर पर मिलावटखोरी हो रही है। मिलावट के खिलाफ भोपाल में रविवार को लोगों का आक्रोश भी देखने को मिला। 
भोपाल में दूध, मावा, चावल-दाल जैसी खाद्य सामग्री में मिलावट पर बच्चे-बुजुर्ग सड़क पर उतर गए। उन्होंने नारेबाजी करते हुए मिलावटखोरों को फांसी देने की मांग की। 

भोपाल में पहली बार मिलावटखोरी पर ऐसा प्रदर्शन देखने को मिला जब लोगों ने मिलावट करने वालों को के खिलाफ आवाज उठाई। बाग मुगालिया एक्सटेंशन कॉलोनी विकास समिति के अध्यक्ष उमाशंकर तिवारी ने बताया कि खाद्य पदार्थों में मिलावट करने वालों को फांसी की सजा की मांग की गई। सरकार ने जिस प्रकार जहरीली शराब पर आजीवन कारावास मौत की सजा निर्धारित की है, उसी प्रकार से खाद्य पदार्थ दूध, घी, मावा, आटा, मसाले, तेल, दाल-चावल एवं अन्य खाद्य पदार्थों में मिलावट करने वालों को फांसी की सजा दी जाए। 

यह भी पढ़ें: MP में स्वास्थ्य सेवाओं का बुरा हाल, पैर फ्रैक्चर होने पर प्लास्टर की जगह बांध दिया कागज का गत्ता

तिवारी ने आगे कहा कि मिलावटखोर आतंकवादी से ज्यादा खतरनाक होते हैं। आतंकवादी एक परिवार को नुकसान पहुंचाते हैं लेकिन मिलावट करने वाले पूरे देश और समाज को नुकसान पहुंचाते हैं। प्रदर्शन में बुजुर्गों से लेकर छोटे बच्चे भी आगे आए। हाथों में बैनर-पोस्टर लेकर वे दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग कर रहे थे। बता दें कि हाल के दिनों में भोपाल में सैंकड़ों क्विंटल नकली मावा और दूध पकड़े गए हैं।