सीएम को करना था पुल का लोकार्पण, एक दिन पहले ही MLA ने कर दिया शुभारंभ, FIR दर्ज

कांग्रेस विधायक सज्जन सिंह वर्मा ने सीएम शिवराज के गृहक्षेत्र सीहोर में कर दिया पुल का उद्घाटन, एक दिन बाद सीएम शिवराज को करना था उद्घाटन, पुलिस ने दर्ज की एफआईआर

Updated: Jul 02, 2021, 02:51 PM IST

सीएम को करना था पुल का लोकार्पण, एक दिन पहले ही MLA ने कर दिया शुभारंभ, FIR दर्ज

सीहोर। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के गृहक्षेत्र में एक पुल के उद्घाटन को लेकर हंगामा खड़ा हो गया है। पुलिस ने पुल का शुभारंभ करने के आरोप में पूर्व पीडब्ल्यूडी मंत्री व कांग्रेस विधायक सज्जन सिंह वर्मा के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर लिया है। कांग्रेस नेता की गलती बस इतनी सी है कि उन्होंने सीएम के गृहक्षेत्र में जाकर पुल का उद्घाटन कर डाला, वह भी सीएम के कार्यक्रम के एक दिन पहले।

दरअसल, कांग्रेस एमएलए सज्जन सिंह वर्मा बुधवार को नेमावर में हुए जघन्य हत्याकांड मामले में पीड़ित परिजनों से मिलकर लौट रहे थे। इस दौरान जब उनका वाहन सीप नदी के पास पहुंचा तो वहां नवनिर्मित बॉक्स ब्रिज के पास भीड़ लगी थी, जबकि ब्रिज पर आवागमन शुरू नहीं था। कांग्रेस नेता ने जब लोगों से इसका कारण पूछा तो पता चला कि सीएम शिवराज एक दिन बाद इसका वर्चुअल माध्यम से उद्घाटन करने वाले हैं, उसके पहले लोगों को आने-जाने नहीं दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: दबंगों ने दलित परिवार को बेरहमी से पीटा, खड़ी फसल उजाड़ी, विरोध करने पर पेड़ से बांधा

सज्जन सिंह वर्मा इस बात पर भड़क गए। उन्होंने वहां मौजूद अधिकारियों को फटकार लगाते हुए कहा कि जनता परेशान है और यहां सीएम के लोकार्पण की तैयारियां की जा रही है। इतना ही नहीं उन्होंने तत्काल फीता काटकर नर्मदा मैया के जयकारे के साथ खुद ही पुल का उद्घाटन कर दिया और निजी वाहन से पुल पार भी किया। साथ ही वहां मौजूद लोगों को कहा कि अब आप ब्रिज से गुजर सकते हैं, सीएम को जब करना होगा तो करें उद्घाटन, जनता क्यों तकलीफ उठाएगी।

हालांकि, कांग्रेस नेता का यह रवैया अधिकारियों को बर्दाश्त नहीं हुआ और गोपालपुर थाना पुलिस ने पूर्व पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा समेत आठ-नौ अन्य के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर ली। बताया गया की ब्रिज कॉर्पोरेशन ने शिकायत की है जिसमें बताया गया है कि पुल की टेस्टिंग नहीं हुई है। टेस्टिंग के बिना वाहन गुजरने से न केवल ब्रिज क्षतिग्रस्त होने की आशंका थी, बल्कि ब्रिज से निकलने वाले वाहन भी हादसे का शिकार हो सकते थे। 

FIR दर्ज होने पर सज्जन सिंह वर्मा ने कहा है कि कांग्रेस इसके खिलाफ आंदोलन करेगी। उन्होंने कहा, 'कमलनाथ की सरकार में हमने हजारों करोड रुपए की सड़कें और गौशाला बनाई जिनका उद्घाटन बीजेपी के सांसदों और बड़े और नेताओं ने किया। लेकिन एक छोटे से पुल का उद्घाटन जनता की परेशानी को देखते हुए मैंने क्या किया बवाल मच गया। बीजेपी सरकार को शर्म आनी चाहिए।'