महिला फूड इंस्पेक्टर ने एसडीएम पर लगाया अश्लील मेसेज भेजने का आरोप, जांच शुरू

देवास जिले के मामला, एसडीएम पर खातेगांव की महिला फूड इंस्पेक्टर ने अश्लील मेसेज भेजने का आरोप लगाया है, महिला के आरोप लगाने के बाद कलेक्टर ने एसडीएम को सस्पेंड कर दिया है, इस पूरे मामले की जांच शुरू कर दी गई है

Updated: Jun 04, 2021, 09:48 AM IST

महिला फूड इंस्पेक्टर ने एसडीएम पर लगाया अश्लील मेसेज भेजने का आरोप, जांच शुरू
Photo Courtesy: Dainik Bhaskar

देवास। देवास जिले की महिला फूड इंस्पेक्टर ने एसडीएम संतोष तिवारी पर प्रताड़ना का आरोप लगाया है। महिला फूड इंस्पेक्टर प्रियंका अग्रवाल का कहना है कि एसडीएम उनके फोन पर उन्हें अश्लील मेसेज भेजते हैं। एक दिन एसडीएम ने उनके कमरे पर आने की बात कही, जिसकी शिकायत महिला फूड इंस्पेक्टर ने कलेक्टर से कर दी। कलेक्टर तक शिकायत पहुंचने के बाद एसडीएम को हटा कर जांच शुरू कर दी गई है। 

महिला फूड इंस्पेक्टर ने गुरुवार को बाकायदा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर एसडीएम संतोष तिवारी पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया। महिला फूड इंस्पेक्टर ने कहा कि एसडीएम संतोष तिवारी अमूमन उन्हें फोन पर अश्लील मेसेज भेजते हैं। बिना किसी काम के वे ऐसे ही कार्यालय मिलने आ जाया करते हैं। महिला ने कहा कि एक दिन पहले एसडीएम ने उन्हें फोन पर मेसेज किया कि मैं तुम्हारे कमरे पर आ रहा हूं। इसके बाद पति को सारी बात बताने के बाद उन्होंने कलेक्टर चंद्रमौली शुक्ला से शिकायत की।

यह भी पढ़ें : केवल कांग्रेस को वोट देने वाले खाना पीना छोड़ दें तो महंगाई कम हो जाएगी, बीजेपी नेता बृजमोहन अग्रवाल का विवादित बयान

फिलहाल संतोष तिवारी पर लगे प्रताड़ना के आरोपों के बाद उन्हें पद से हटा दिया गया है। उनकी जगह पर त्रिलोचन सिंह को नया एसडीएम नियुक्त किया गया है। हालांकि इस पूरे मामले में आरोप झेल रहे निलंबित एसडीएम ने कहा है कि उनके ऊपर लगाए जा रहे आरोप बेबुनियाद हैं। संतोष तिवारी का कहना है कि पिछले दो महीने से गेहूं का जो उपार्जन किया गया है, उसमें 150 क्विंटल की धांधली की गई है। इसलिए महिला फूड इंस्पेक्टर उन्हें ब्लैकमेल कर रही हैं।