शिवराज के मंत्री ने दी डॉक्टरों को अजीबोगरीब सलाह, कहा, मरीजों से कहो, मरोगे तो हमारी गारंटी नहीं होगी

नरसिंहपुर के ज़िला अस्पताल में डॉक्टरों से बातचीत के दौरान गोपाल भार्गव ने सुझाई तरकीब, डॉक्टरों ने की थी मंत्री से शिकायत, की ठीक होने के बाद भी अपने घर नहीं लौट रहे मरीज़

Updated: Apr 17, 2021, 01:20 PM IST

शिवराज के मंत्री ने दी डॉक्टरों को अजीबोगरीब सलाह, कहा, मरीजों से कहो, मरोगे तो हमारी गारंटी नहीं होगी

नरसिंहपुर। मध्यप्रदेश में फैले कोरोना के कहर के बीच शिवराज सरकार के मंत्रियों के विवादित बयानों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। ताज़ा और अफसोसजनक बयान शिवराज सरकार में लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव की ओर से आया है। नरसिंहपुर के ज़िला अस्पताल में वे डॉक्टरों को मरीजों से छुटकारा पाने के लिए अजीबोगरीब तरकीब सुझाते हुए नज़र आ रहे हैं।

यह भी पढ़ें : प्रेस कॉन्फ्रेंस बीच में छोड़ कर चले गए वन मंत्री, कहा, हम मौत के आंकड़े गिनने के लिए एकत्रित नहीं हुए

नरसिंहपुर के ज़िला अस्पताल में निरीक्षण करने पहुंचे गोपाल भार्गव और अस्पताल के डॉक्टरों के बीच बातचीत का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वीडियो में अस्पताल के डॉक्टर गोपाल भार्गव से यह शिकायत करते हुए दिखाई पड़ रहे हैं कि अस्पताल में भर्ती ज़्यादातर मरीज़ स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से अपने घरों की ओर लौटना नहीं चाह रहे हैं। 

डॉक्टरों की इस शिकायत का निवारण करने के लिए मंत्री जो सुझाव दे रहे हैं वो बिल्कुल ही अफसोसजनक और अशोभनीय है। गोपाल भार्गव डॉक्टरों को यह सलाह दे रहे हैं कि आप उनसे (अस्पताल में भर्ती मरीज़) यह कहना कि आप घर जाओ नहीं मरोगे, लेकिन यहां पर रहते हुए मर गए तो हमारी गारंटी नहीं होगी।

यह भी पढ़ें : उम्र होने के बाद तो मृत्यु होती ही है, मौत को कोई रोक नहीं सकता, शिवराज के मंत्री का विवादित बयान

हालांकि गोपाल भार्गव शिवराज सरकार के पहले मंत्री नहीं हैं जिन्होंने विवाद खड़ा करने वाला कोई बयान दिया हो। प्रेम सिंह पटेल को यहां तक कह चुके हैं कि एक उम्र होने के बाद व्यक्ति की मौत तो हो ही जाती है। मौत को रोका नहीं जा सकता। वहीं वन मंत्री विजय शाह ने खंडवा में हाल ही में मीडिया से बात करते हुए कहा था कि हम यहां मरीजों की मौत के आंकड़े एकत्रित करने नहीं आए हैं।