MP Honeytrap : जीतू सोनी का भाई गुजरात में गिरफ्तार

Jitu Soni : एमपी के विवादित हनी ट्रैप मामले में ब्लैकमेलिंग करने का मुख्य आरोपी है

Publish: Jun-25, 2020, 04:04 PM IST

MP Honeytrap : जीतू सोनी का भाई गुजरात में गिरफ्तार

इंदौर पुलिस को हनी ट्रैप मामले में ब्लैकमेलिंग कर फरार हुए जीतू सोनी मामले में बड़ी कामयाबी मिली है। इंदौर पुलिस ने जीतू सोनी के भाई महेंद्र सोनी को गुजरात में धर दबोचा है। महेंद्र सोनी पर 10 हज़ार रुपए का ईनाम रखा गया था। कई महीनों से फरार महेंद्र सोनी गुजरात के अमरेली में पुलिस के हत्थे चढ़ा। मुख्‍य आरोपी जीतू सोनी अब भी फरार चल रहा है।

यह जानकारी इंदौर क्राइम ब्रांच के एडिशनल एसपी राजेश दंडोतिया ने न्यूज़ एजेंसी एएनआई को दी। महेंद्र सोनी और उसका भाई जीतू सोनी दोनों ही कई महीनों से फरार चल रहे थे। पुलिस को जीतू सोनी की भी जानकारी मिल गई थी। वह मुंबई के एक पॉश इलाके में छुपा हुआ था। भाई महेंद्र की गिरफ्तारी की भनक लगते ही जीतू उस जगह से भाग गया और टीम को खाली हाथ लौटना पड़ा।

जीतू सोनी कौन है?

जीतू सोनी मध्य प्रदेश के विवादित और बहुचर्चित हनी ट्रैप मामले में ब्लैकमेलिंग करने का मुख्य आरोपी है। जीतू सोनी के विरुद्ध नगर निगम इंजीनियर हरभजनसिंह ने एमआइजी थाने में ब्लैकमेलिंग और भ्रामक खबरें प्रकाशित करने की शिकायत दर्ज करवाई थी। पुलिस ने 30 नवंबर को जीतू की होटल मायहोम, घर व अन्य स्थानों पर छापे मारे थे। जीतू सोनी का बड़ा बेटा अमित गिरफ्तार हो चुका है जबकि अन्‍य फरार हैं। जीतू सोनी इंदौर स्थित संझा लोकस्वामी अख़बार का मालिक है। मध्य प्रदेश में हनी ट्रैप मामले का खुलासा होने के बाद जीतू सोनी ने अपने यूट्यूब चैनल पर भाजपा के कुछ नेताओं का भंडाफोड़ किया था। जीतू सोनी ने वीडियो लीक कर दिया था। इसके बाद पुलिस ने जीतू सोनी के ऊपर दबिश डालने की कोशिश की। स्थानीय प्रशासन के जीतू सोनी के कई ठिकाने पर छापे मारी की। छापे मारी के दौरान पुलिस की नज़र जीतू सोनी द्वारा संचालित अवैध बार पर पड़ी। पुलिस ने वहां से कई महिलाओं और बच्चियों को छुड़ाया। इंदौर नगर निगम जीतू सोनी के दफ्तर और अवैध बंगले को गिरा चुकी है।