भोपाल में होगी G-20 की महत्वपूर्ण बैठक, 22 देशों के 94 प्रतिनिधि लेंगे हिस्सा

दुनिया के शक्तिशाली देशों के संगठन जी-20 की अध्यक्षता इस बार भारत कर रहा है। इस आयोजन में जी-20 के सदस्य देशों के मंत्री और डेलिगेट्स भोपाल आ रहे हैं।

Updated: Jan 15, 2023, 12:59 PM IST

भोपाल में होगी G-20 की महत्वपूर्ण बैठक, 22 देशों के 94 प्रतिनिधि लेंगे हिस्सा

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में जी-20 का विशेष सम्मेलन 16-17 जनवरी को होने वाला है। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि 16 और 17 जनवरी को कुशाभाऊ ठाकरे कन्वेंशन सेंटर में यह दो दिवसीय बैठक का आयोजन किया जाएगा। इस बैठक में 22 देशों के 94 प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे।

दरअसल, दुनिया के शक्तिशाली देशों के संगठन जी-20 की अध्यक्षता इस बार भारत कर रहा है। इस आयोजन में जी-20 के सदस्य देशों के मंत्री और डेलिगेट्स भोपाल आ रहे हैं। इसके बाद खजुराहो और इंदौर में भी दो अहम बैठके होंगी, जिनके लिए भी तैयारियां चल रही हैं। 

भोपाल में आयोजित सम्मेलन की थीम है थिंक 20 गवर्नेंस विद लाइफ, वैल्यू एंड वेल बीइंग। भारत सरकार के विदेश मंत्रालय की संस्था रिसर्च एंड एनफार्मेशन सिस्टम फार डेवलपिंग कंट्रीज की ओर से इसका आयोजन किया जा रहा है। मध्य प्रदेश के दो बड़े अधिकारियों ने मंत्रालय में जी-20 के सम्मेलन को लेकर व्यवस्थाओं की समीक्षा की।
दोनों अधिकारियों ने अतिथियों के स्वागत, सत्कार, सुविधाएं और सुरक्षा में कोई कमी नहीं रहे, इसके लिए अधिकारियों को निर्देशित किया।

विदेशों से आने वाले डेलिगेट्स के लिए मध्यप्रदेश की संस्कृति और ऐतिहासिक विरासत से भी रूबरू कराने की व्यवस्था की गई है। इन प्रतिनिधियों को यूनेस्को वर्ल्ड हेरीटेज साइट सांची का भ्रमण कराया जाएगा। इसके अलावा भोपाल स्थित ट्राइबल, म्यूजियम, मानव संग्रहालय, भारत भवन, शौर्य स्मारक आदि भी ले जाने का प्लान है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों को कहा कि बैठक में मध्य प्रदेश के ओडीओपी उत्पाद, कोदो-कुटकी जैसे उत्पादों से बने पारंपरिक व्यंजनों की जानकारी प्रदर्शनी और साहित्य के माध्यम से प्रदान की जाए। साथ ही भारतीय व्यंजनों का स्वाद भी अतिथियों को मिले, इसके लिए आवश्यक प्रबंध किए जाएं। मध्य प्रदेश के पर्यटन, वन्य जीवन, पुरावैभव और सुशासन सहित अन्य क्षेत्रों में अर्जित उपलब्धियों की जानकारी भी प्रतिभागियों तक पहुंचाई जाए।