जयवर्धन सिंह: महाराज के जाने से तीन गुटों में बंटी भाजपा, शिवराज भाजपा, महाराज भाजपा और नाराज भाजपा

जयवर्धन सिंह ने ग्वालियर में सिंधिया पर जमकर बोला हमला, कहा, सिंधिया के चले जाने से कांग्रेस में गुटबाज़ी खत्म हो गई है, जबकि भाजपा में गुटबाज़ी अपने चरमसीमा पर पहुंच गई है

Updated: Aug 25, 2021, 03:55 PM IST

जयवर्धन सिंह: महाराज के जाने से तीन गुटों में बंटी भाजपा, शिवराज भाजपा, महाराज भाजपा और नाराज भाजपा

ग्वालियर। कमल नाथ सरकार में मंत्री रहे जयवर्धन सिंह ने भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया पर जमकर निशान साधा है। जयवर्धन सिंह ने सिंधिया और बीजेपी पर एक साथ निशाना साधते हुए कहा है कि महाराज के बीजेपी में जाने के बाद से ही भाजपा तीन हिस्सों में बंट गई है। कांग्रेस नेता ने तंज कसते हुए कहा है कि भाजपा में अब तीन गुट हैं, शिवराज भाजपा, महाराज भाजपा और नाराज भाजपा।  

जयवर्धन सिंह ने सिंधिया को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि सिंधिया के बीजेपी में चले जाने के बाद से ही कांग्रेस में गुटबाज़ी खत्म हो गई है। लेकिन वहीं बीजेपी के भीतर गुटबाज़ी अपने चरमसीमा पर पहुंच गई है। जयवर्धन सिंह ने कहा कि ग्वालियर चंबल में भी बीजेपी में तीन गुट हैं। एक गुट नरेंद्र सिंह तोमर का है, दूसरा ज्योतिरादित्य सिंधिया का है और तीसरा गुट वीडी शर्मा का है।  

कांग्रेस नेता जयवर्धन सिंह ने यह बातें ग्वालियर में कहीं। जयवर्धन सिंह ने कहा कि अगर पार्टी को ग्वालियर चंबल में उनकी आवश्यकता महसूस होगी, तो वे ज़रूर ज़िम्मेदारी को निभाएंगे। हालांकि उन्होंने कहा कि ग्वालियर चंबल क्षेत्र में पहले से ही गोविंद सिंह और केपी सिंह सरीखे बड़े नेता हैं।  

जयवर्धन सिंह ने टीकाकरण अभियान पर अपनी राय व्यक्त करते हुए कहा कि टीकाकरण के मसले पर बीजेपी को कांग्रेस सरकार द्वारा पोलियो के टीके के लिए चलाए गए अभियान से सीख लेनी चाहिए। कांग्रेस नेता ने कहा कि कांग्रेस के पोलिया टीकाकरण अभियान की तर्ज पर ही बीजेपी सरकार को कोरोना टीकाकरण अभियान को चलाना चाहिए। हालांकि जयवर्धन सिंह ने यह भी कहा कि जिस तरह से इस समय वैक्सीनेशन की रफ्तार चल रही है, उन्हें नहीं लगता कि इस साल यह अभियान पूरा हो पाएगा। इसके अलावा जयवर्धन सिंह ने शिवराज सरकार पर बाढ़ पीड़ितों तक आर्थिक सहायता नहीं पहुंचाने का भी आरोप लगाया। वहीं उन्होंने शिवराज सरकार पर प्रदेश के ओबीसी वर्ग के लोगों के साथ विश्वासघात करने का भी आरोप लगाया।