सांवेर उपचुनाव: जीतू पटवारी की अगुवाई में डीआईजी ऑफिस पर धरना, कांग्रेस कार्यकर्ता को झूठे केस में फंसाने का आरोप

Jitu Patwari: कांग्रेस कार्यकर्ता बबलू यादव को बीजेपी में शामिल होने को कहा गया, इनकार करने पर बीजेपी के लोगों ने झूठे मामले में फंसाया

Updated: Oct 28, 2020, 06:22 PM IST

सांवेर उपचुनाव: जीतू पटवारी की अगुवाई में डीआईजी ऑफिस पर धरना, कांग्रेस कार्यकर्ता को झूठे केस में फंसाने का आरोप
Photo Courtesy: Twitter

इंदौर। सांवेर के एक सरपंच के बेटे को इंदौर पुलिस ने हत्या की साजिश रचने के आरोप में कैद कर लिया है। हिरासत में लिए गए बबलू यादव कांग्रेस के कार्यकर्ता हैं। कांग्रेस का आरोप है कि बीजेपी के नेताओं ने झूठा मुकदमा दर्ज करके बबलू यादव को गिरफ्तार करवाया है। अपने कार्यकर्ता को जेल से रिहा कराने के लिए पूर्व मंत्री जीतू पटवारी के नेतृत्व में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने इंदौर डीआईजी ऑफिस के बाहर धरना दिया और जमकर नारेबाजी की।  

कांग्रेस नहीं छोड़ने पर दर्ज कराया झूठा केस: जीतू पटवारी 
पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने इंदौर डीआईजी हरिनारायणचारि मिश्रा  से कहा कि बीजेपी नेताओं ने कांग्रेस कार्यकर्ता बबलू यादव से संपर्क साध कर उन्हें कांग्रेस छोड़ने के लिए कहा था। बबलू यादव ने उनकी बात नहीं मानी तो बीजेपी नेताओं ने मारपीट करने और हत्या की साजिश रचने का झूठा प्रकरण दर्ज करा दिया।

 

इसी बीच जीतू पटवारी का एडिशनल एसपी राजेश रघुवंशी से विवाद भी हो गया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जब बबलू को रिहा करने की मांग की, तो पुलिस ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को बबलू यादव की रिहाई के लिए कोर्ट से अपील करने की सलाह दी। इसी के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने डीआईजी ऑफिस के बाहर धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया।