प्रदेश में ऑक्सीजन आपूर्ति को लेकर झूठ परोस रहे हैं शिवराज, शहडोल में हुई मौतों पर कमल नाथ ने सीएम पर साधा निशाना

कमल नाथ ने कहा है कि शिवराज ऑक्सीजन और इंजेक्शन की आपूर्ति को लेकर लगातार प्रदेश की जनता के सामने झूठे आंकड़े रख रहे हैं, मौतों को रोकने के लिए युद्ध स्तर पर काम करने की ज़रूरत है

Publish: Apr 18, 2021, 11:56 AM IST

प्रदेश में ऑक्सीजन आपूर्ति को लेकर झूठ परोस रहे हैं शिवराज, शहडोल में हुई मौतों पर कमल नाथ ने सीएम पर साधा निशाना
Photo Courtesy: The Print

भोपाल। शहडोल के मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी से हुई 16 लोगों की मौत पीसीसी चीफ कमल नाथ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को आड़े हाथों लिया है। कमल नाथ ने शिवराज पर आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री लगातार प्रदेश में ऑक्सीजन और इंजेक्शन की आपूर्ति पर जनता को गुमराह करने का काम कर रहे हैं। कमल नाथ ने कहा है कि शिवराज लगातार जनता के सामने झूठे आंकड़े परोसने का काम कर रहे हैं। 

यह भी पढ़ें : शहडोल: ऑक्सीजन की किल्लत से मेडिकल कॉलेज में 16 लोगों की हुई मौत

कमल नाथ ने शिवराज सरकार पर तंज कसते हुए कहा है कि सरकारी आंकड़ों में ऑक्सीजन के साथ साथ रेमडेसिविर इंजेक्शन की उपलब्धता को लेकर भी यही दावे हैं। कमल नाथ ने कहा है कि रेमडेसिविर इंजेक्शन और ऑक्सीजन की उपलब्धता केवल सरकारी आंकड़ों में ही है। अस्पतालों से यह पूरी तरह से गायब हैं। कमल नाथ ने कहा है कि प्रदेश में लगातार हो रही मौतों को रोकने के लिए युद्ध स्तर पर काम करने की ज़रूरत है। 

यह भी पढ़ें : बीजेपी का इवेंट प्रेम: ऑक्सीजन टैंकर के इंदौर पहुंचते ही प्रचार करने लगे बीजेपी के नेता, लोगों की ज़िंदगियों पर दे दी अपने प्रचार को तरजीह

कमल नाथ ने अपने ट्विटर हैंडल पर कहा, 'अब शहडोल में ऑक्सिजन की कमी से मौतों की बेहद दुखद ख़बर ?भोपाल , इंदौर , उज्जैन , सागर , जबलपुर , खंडवा , खरगोन में ऑक्सिजन की कमी से मौतें होने के बाद भी सरकार नहीं जागी ?आख़िर कब तक प्रदेश में ऑक्सिजन की कमी से यूँ ही मौतें होती रहेगी?' पीसीसी चीफ ने मुख्यमंत्री को निशाने पर लेते हुए कहा, 'शिवराज जी आप कब तक ऑक्सिजन की आपूर्ति को लेकर झूठे आँकड़े परोसकर , झूठ बोलते रहेंगे , जनता रूपी भगवान रोज़ दम तोड़ रही है ? प्रदेश भर की यही स्थिति , अधिकांश जगह ऑक्सिजन का भीषण संकट? 

कमल नाथ ने आगे कहा, 'रेमडेसिविर इंजेक्शन की भी यही स्थिति , सिर्फ़ सरकार के बयानो में व आँकड़ो में ही ऑक्सिजन व रेमड़ेसिविर उपलब्ध , अस्पतालों से ग़ायब ?सरकार काग़ज़ी बैठकों से निकलकर मैदानी स्थिति सम्भाले , स्थिति बेहद विकट। पूर्व मुख्यमंत्री ने हिदायत देते हुए कहा कि प्रदेश वासियो को इस संकट से निकाले, ऑक्सिजन की आपूर्ति के युद्ध स्तर पर प्रयास करे , स्थितियाँ भयावह होती जा रही है।