बैतूल: कंगना की शूटिंग का कांग्रेस ने किया विरोध, पुलिस ने बरसाई लाठियां, कई घायल

मध्य प्रदेश के बैतूल में बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत धाकड़ फ़िल्म की शूटिंग कर रही हैं, किसानों को आतंकी बताने वाले ट्वीट के खिलाफ हुआ प्रदर्शन

Updated: Feb 13, 2021, 09:12 AM IST

बैतूल: कंगना की शूटिंग का कांग्रेस ने किया विरोध, पुलिस ने बरसाई लाठियां, कई घायल
Photo Courtesy: Bhaskar

बैतूल। मध्य प्रदेश के बैतूल में कॉन्ट्रोवर्सी क्वीन कंगना रनौत के सेट पर जमकर हंगामा हुआ। बैतूल में धाकड़ फ़िल्म की शूटिंग करने पहुंची अभिनेत्री के खिलाफ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान पुलिस ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर जमकर लाठियां बरसाई। इतना ही नहीं भीड़ को तीतर-बितर करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोलों और वॉटर कैनन का भी इस्तेमाल किया।

बताया जा रहा है कि शुक्रवार को जिस वक्त कांग्रेस कार्यकर्ता विरोध कर रहे थे उस दौरान कंगना अपने सेट पर नहीं बल्कि चूरन रेस्ट हाउस में थी। आशंका भांपकर पुलिस ने उन्हें यहां आने से मना कर दिया था। कांग्रेसियों ने प्रदर्शन के दौरान कोल हैंडलिंग प्लांट के मुख्य गेट पर लगे बैरिकेड तोड़ दिए। इस दौरान पुलिस के बल प्रयोग के कारण कई कार्यकर्ताओं को गंभीर चोटें भी आई। इसमें जिला महिला कांग्रेस अध्यक्ष सीमा अतुलकर भी घायल हैं।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कंगना के खिलाफ यह प्रदर्शन उनके उन विवादित ट्वीट्स को लेकर किया है, जिसमें उन्होंने किसानों को आतंकी कहा था। कांग्रेस ने कंगना को माफी मांगने के लिए 12 फरवरी तक का वक्त दिया था।इसके बाद गृह मंत्री के निर्देश पर पुलिस ने सुरक्षा कड़ी कर दी थी। लेकिन जब उन्होंने माफी नहीं मांगी तो कांग्रेस कार्यकर्ता सारणी में हो रही धाकड़ की शूटिंग रोकने निकल पड़े। कांग्रेस ने दोबारा चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर अगले 48 घण्टे में कंगना ने माफी नहीं मांगी तो कांग्रेस फिर आंदोलन से आंदोलन करेगी।

वहीं कंगना माफी मांगना तो दूर अब भी विवादास्पद ट्वीट कर रही हैं। उन्होंने इस विरोध प्रदर्शन को लेकर भी ट्वीट किया है। उन्होंने कहा कि किसानों के समर्थन में कांग्रेस कार्यकर्ता विरोध कर रहे हैं। कांग्रेस को यह पॉवर ऑफ अटॉर्नी किसने दे दिया। किसान खुद क्यों नहीं प्रदर्शन करते।'

 

कांग्रेस के इस प्रदर्शन के दौरान बैतूल विधायक निलय डागा, घोड़ाडोंगरी विधायक ब्रह्मा भलावी, कांग्रेस प्रदेश सचिव समीर खान सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद थे।