शिवपुरी में किसान की सालभर की मेहनत हुई राख, घर में गैस सिलेंडर फटने से जला 35 बोरी अनाज, बाल-बाल बचा परिवार

कच्चे मकान में खाना बनाते वक्त फटा LPG गैस सिलेंडर, घर का सारा सामान हुआ राख, अनाज, 50 हजार कैश में लगी आग, महिला और बच्चे ने भागकर बचाई जान

Updated: May 24, 2021, 06:51 PM IST

शिवपुरी में किसान की सालभर की मेहनत हुई राख, घर में गैस सिलेंडर फटने से जला 35 बोरी अनाज, बाल-बाल बचा परिवार
Photo courtesy: mp breaking

शिवपुरी। जिले के भौती गांव में कच्चे मकान में रसोई गैस सिलेंडर फटने से घर में आग लग गई। इस आग से किसान का लाखों का आनाज जलकर तबाह हो गया। किसान का कहना है कि घर में 25 बोरी गेहूं, 15 बोरी मूंगफली रखी थी। कुछ अनाज अगली फसल के बीज के लिए बचा कर रखी थी। इस आग ने किसान की सारी मेहनत जलाकर राख कर दी।

अनाज के अलावा इस आग में घर में रखे कैश 50 हजार रुपए भी जल गए। वहीं किसान के पास अब कुछ नहीं बचा है। खेती में सिंचाई के लिए उपयोग होने वाली मशीनें, घर की जरुरत का सामान भी जल गया है। किसान की मानें तो पिछले दिनों उसने फसल का कुछ हिस्सा बेचा था जिससे हुई कमाई के रुपए भी आग की भेंट चढ़ गए हैं। अब किसान के परिवार के सामने भूखों मरने की नौबत आ गई है।

सोमवार को महिला खाना बना रही था, उसका बच्चा वहीं बैठा खेल रहा था। तभी सिलेंडर में अचानक आग लग गई। महिला कुछ समझ पाती उससे पहले ही आग ने विकराल रूप ले लिया। किसी कदर महिला और बच्चे ने घर से बाहर निकल कर अपनी जान बचाई। वहां मौजूद लोगों ने तत्परता से घर में बंधे जानवारों की रस्सी खोल दी। हादसे में किसान कई पालतू पशुओं के भी झुलसने की खबर है।

महिला का कहना है कि जैसे ही सिलेंडर फटा पूरे घर का सामान बिखर गया। गर्मी और तेज हवा चलने की वजह से आग ने तेजी से कच्चे मकान को अपनी जद में ले लिया। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस और दमकल की टीम पहुंची। दमकल को आने में कुछ समय लग गया किसान का आरोप है कि अगर समय पर आग बुझा दी जाती तो उसकी गृहस्थी बरबाद होने से बच जाती।

किसान और उसकी पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल है, उनका कहना है कि सालभर की गुजर बसर के लिए उनके पास अनाज का ही सहारा था, वहीं अगले साल के लिए रखा बीज भी राख हो जाने से उनकी उम्मीदों पर पानी फिर गया है। किसान ने प्रशासन से मदद की गुहार की है।