महंगाई मुक्त भारत अभियान: भोपाल में कमलनाथ ने थाली बजाकर किया प्रदर्शन, बोले- सरकार के कान बंद हैं

कमलनाथ ने केंद्र और राज्य सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि, उनका मुंह खुला है, आखं और कान नहीं खुले हैं, इस अभियान से उनकी आंखें और कान खोली जा रही है

Updated: Mar 31, 2022, 03:06 PM IST

महंगाई मुक्त भारत अभियान: भोपाल में कमलनाथ ने थाली बजाकर किया प्रदर्शन, बोले- सरकार के कान बंद हैं

भोपाल। महंगाई के खिलाफ कांग्रेस ने देश व्यापी अभियान छेड़ दिया है। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में पीसीसी चीफ कमलनाथ ने महंगाई मुक्त भारत अभियान की शुरुआत की। पूर्व सीएम ने इस दौरान ढोल मंजीरा, थाली, ताली, घंटा बजाकर विरोध प्रदर्शन किया।

कमलनाथ समेत तमाम कांग्रेस नेताओं ने गैस सिलिंडर को श्रद्धांजलि देकर सांकेतिक विरोध किया। उन्होंने इस दौरान केंद्र और राज्य सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि, 'उनका मुंह खुला है। आखं और कान नहीं खुले हैं। इस अभियान से उनकी आंखें और कान खोली जा रही है। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने फैक्ट्री खोल ली है, वह जमकर झूठ बोल रहे हैं।' 

पीसीसी चीफ ने आगे के कहा कि, 'आज देश का हर वर्ग महंगाई से त्रस्त है। प्रदेश के बेरोजगार व्यापमं घोटाले को झेल रहे हैं। किसान खाद और बीज के लिए परेशान हैं। देश में लगातार पेट्रोल डीजल और रसोई गैस के दाम बढ़ रहे हैं। पीएम मोदी की जितनी दाढ़ी बढ़ती है, उतना ही पेट्रोल डीजल के दामों में उछाल आता है। पीएम मोदी से आव्हान करूंगा कि दाढ़ी बढ़ाने का काम कम करें, ताकि पेट्रोल डीजल के साथ रसोई गैस दाम कम हो सके।'

यह भी पढ़ें: सिंधिया के करीबी मंत्री तक पहुंची व्यापमं पेपर लीक कांड की आंच, गोविंद सिंह राजपूत के बेटे के कॉलेज का निकला स्क्रीनशॉट

कांग्रेस के इस अभियान की शुरुआत कमलनाथ के निवास से हुई। यहां कमलनाथ के अलावा कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक कांतिलाल भूरिया, पीसी शर्मा, आरिफ मसूद सहित पीसीसी के संगठन प्रभारी उपाध्यक्ष चंद्रप्रभाष शेखर, प्रशासन प्रभारी महामंत्री राजीव सिंह आदि ने बीजेपी सरकार की नीतियों के खिलाफ हल्ला बोला। कांग्रेस जनों ने कहा कि पेट्रोल-डीजल की कीमतें आसमान छू रही हैं और रोजाना ही बढ़ रही हैं क्योंकि अभी किसी जगह चुनाव नहीं हैं। गैस सिलेंडर एक हजार रुपए कर दिया है।'

बता दें कि कांग्रेस का यह अभियान तीन चरणों में 31 मार्च से 7 अप्रैल तक चलेगा। दूसरा चरण 2 से 4 अप्रैल और अंतिम चरण 7 अप्रैल तक चलेगा। देश के सभी राज्यों में कांग्रेस कार्यकर्ता इस अभियान के तहत प्रदर्शन कर रहे हैं।