कृषि विभाग के पूर्व SDO ने की खुदकुशी, बहू और उसके परिवार पर परेशान करने का आरोप

62 वर्षीय राजेंद्र सिंह ग्वालियर में रह रहे थे, बहू और उसके घर वाले राजेंद्र सिंह पर मकान बहू के नाम करने की ज़िद कर रहे थे

Updated: Mar 02, 2021, 08:00 PM IST

कृषि विभाग के पूर्व SDO ने की खुदकुशी, बहू और उसके परिवार पर परेशान करने का आरोप
Photo Courtesy : Dainik Bhaskar

ग्वालियर/भोपाल। ग्वालियर में रहने वाले कृषि विभाग के पूर्व एसडीओ ने आत्महत्या कर ली। शहर के विनय नगर सेक्टर 4 में रहने वाले राजेंद्र सिंह राजपूत ने अपनी बंदूक से खुद को गोली मार ली। राजेंद्र सिंह ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है। जिसमें उन्होंने सारा इलज़ाम अपनी बहू और उसके परिजनों पर लगाया है।  

पुलिस द्वारा बरामद किए गए राजेंद्र सिंह के कथित सुसाइड नोट के मुताबिक राजेंद्र सिंह ने सुसाइड नोट में कहा है कि, 'मेरी बहू ने मुझे चोर कहा।' राजेंद्र सिंह ने सुसाइड नोट में अपनी बहू के पिता और भाई पर मारपीट करने के आरोप भी लगाए हैं। राजेंद्र सिंह ने कहा कि मकान के लिए मुझे मेरी बहू ने चोर तक कह डाला। उसने अपने पिता और भाई से मेरी पिटाई भी करवाई। इन लोगों ने मेरी सामाजिक हत्या की है, इसलिए मैं अब जीना नहीं चाहता।  

राजेंद्र सिंह 2018 में कृषि विभाग के एसडीओ के पद से रिटायर हुए थे। 62 साल के राजेंद्र सिंह के घर में पत्नी के अलावा उनके दो बेटे थे। बड़ा बेटा शिवपुरी में प्रोफेसर है, जबकि छोटा ग्वालियर में ही काम करता है। बड़े बेटे की पत्नी का मायका भी शिवपुरी में ही है। राजेंद्र सिंह ने कहा है कि उनकी बहू और उसके परिवार ने उन्हें बहुत प्रताड़ित किया। बहू ग्वालियर वाला घर अपने नाम कराना चाहती थी, लेकिन राजेंद्र सिंह इस चीज़ के पक्ष में नहीं थे। 

राजेंद्र सिंह ने अपने सुसाइड नोट में लिखा है कि 3 जुलाई 2020 को उनकी बहू प्रीति, अपने पिता परिमल सिंह और अपने भाइयों के साथ आ धमकी। राजेंद्र सिंह ने कहा कि सबने मिलकर उनके साथ मारपीट की। राजेंद्र सिंह ने लिखा है कि इसके बाद बहू और उसके परिवार वालों ने उनके ही खिलाफ झूठे मामले भी दर्ज करा दिए। दूसरी तरफ इस पूरे मामले में इस बात का भी ज़िक्र किया जा रहा है कि मंगलवार को मकान की रजिस्ट्री कराने के लिए जाना था। लकिन इससे पहले ही उन्होंने खुद को गोली मार ली।