Pradyuman Singh: MP में एक और मंत्री का बंगला सील

Corona Impact: ऊर्जा मंत्री के बंगले में तैनात बिजली कर्मचारी संक्रमित, स्टाफ समेत मंत्री क्वारंटाइन, बंगला सील

Updated: Aug-08, 2020, 02:23 AM IST

Pradyuman Singh: MP में एक और मंत्री का बंगला सील
photo courtesy : naidunia

भोपाल। मध्यप्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह के ग्वालियर स्थित बंगले पर कोरोना ने दस्तक दे दी है। जिसके बाद मंत्री के बंगले को 5 दिन के लिए सील कर दिया गया है। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह और उनका स्टाफ क्वारंटाइन हो गए हैं।

दरअसल ऊर्जा मंत्री के ग्वालियर स्थित बंगले पर बिजली उपभोक्ताओं की समस्याओं के तुरंत निराकण के लिए एक अस्थाई कैंप लगाया गया था। कैंप में जनता की समस्या सुनने के लिए बिजली विभाग के कर्मचारियों और अधिकारियों को तैनात किया गया था। इस कैंप में जनता की समस्या सुनने के लिए मौजूद बिजली विभाग के दो कर्मचारी कोरोना संक्रमित निकले हैं। इन कर्मचारियों के संपर्क में कई लोग आए थे। दोनों कर्मचारियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद ऊर्जा मंत्री समेत स्टाफ को क्वारंटाइनकिया गया है।

ग्वालियर में ऊर्जा मंत्री के रेसकोर्स रोड स्थित बंगले पर नोटिस लगा दिया गया है कि बंगले के किसी भी सदस्य से संपर्क ना किया जाए। गौरतलब है कि बंगले में बिजली विभाग के कर्मचारी के पॉजिटिव मिलने के बाद ऊर्जा मंत्री ने अपना भोपाल दौरा भी रद्द कर दिया है। भोपाल में ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह को विभागीय बैठक में शामिल होना था। मंत्री के बंगले में कोरोना मरीज मिलने के बाद से हड़कंप मच गया है।

ग्वालियर में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। बीते 24 घंटे में यहां 89 नए मरीज मिले हैं। यहां कुल कोरोना मरीजों की संख्या 2956 हो गई है।

ग़ौरतलब है कि इससे पहले 6 अगस्त को प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट के इंदौर में रेसीडेंसी स्थित सरकारी बंगले को सील किया गया है। कोरोना संक्रमण के बाद मंत्री तुलसीराम सिलावट और उनके परिजनों का निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। जिला प्रशासन ने मंत्री तुलसीराम सिलावट के बंगले के बाहर बैरिकेड्स लगा दिए हैं।