OBC मेडिकल स्टूडेंट्स का धरना: स्कॉलरशिप में कटौती के खिलाफ भोपाल में जुटे ओबीसी स्टूडेंट्स

मेडिकल स्टूडेंट्स के मुताबिक उन्हें मिलने वाली स्कॉलरशिप में 15 से 30 फीसदी तक की कटौती की जा रही है। वह लगातार शिकायत कर रहे हैं लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

Updated: Sep 12, 2022, 06:07 PM IST

OBC मेडिकल स्टूडेंट्स का धरना: स्कॉलरशिप में कटौती के खिलाफ भोपाल में जुटे ओबीसी स्टूडेंट्स

भोपाल। मध्य प्रदेश में ओबीसी समुदाय राजनीति का केंद्र रहा है। ओबीसी आरक्षण के मुद्दे पर पक्ष और विपक्ष में तनातनी मची रही। लेकिन स्वयं को ओबीसी वर्ग का हितैषी बताने वाली शिवराज सरकार द्वारा ओबीसी मेडिकल स्टूडेंट्स की स्कॉलरशिप में कटौती की जा रही है। प्रदेशभर के छात्रों ने सोमवार को राजधानी भोपाल में इसके विरुद्ध धरना प्रदर्शन किया।

ObC वर्ग के मेडिकल स्टूडेंट्स के मुताबिक उन्हें मिलने वाली स्कॉलरशिप में 15 से 30 फीसदी तक की कटौती की जा रही है। एडमिशन के टाइम डीएमई (डायरेक्टर मेडिकल एजुकेशन) का लिखित आदेश होने के बावजूद हमारी छात्रवृत्ति काटकर दी जा रही है। इससे गरीब परिवारों के बच्चों पर आर्थिक बोझ पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें: MP के सिर्फ 2 विधायकों ने दिया संपत्ति का ब्यौरा, विधानसभा अध्यक्ष और मुख्यमंत्री भी भूले अपना संकल्प

छात्रों के मुताबिक कई बार अफसरों से गुहार लगाने के बाद भी जब सुनवाई नहीं हुई प्रदेश भर के प्राईवेट मेडिकल कॉलेजों के करीब 350 एमबीबीएस स्टूडेंट भोपाल के नीलम पार्क पहुंचे और धरना दिया। हालांकि, यहां पुलिस अधिकारियों ने छात्रों की मांगों को सरकार तक पहुंचाने का आश्वासन देकर उन्हें नीलम पार्क से रवाना कर दिया। 

नीलम पार्क में जुटे पीपुल्स मेडिकल कॉलेज, चिरायु मेडिकल कॉलेज, अरविंदो मेडिकल कॉलेज, एलएन मेडिकल कॉलेज, इंडेक्स मेडिकल कॉलेज, आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज, महावीर मेडिकल कॉलेज, आरकेडीएफ मेडिकल कॉलेज,अमलतास मेडिकल कॉलेज के छात्रों ने बताया कि सिर्फ ओबीसी वर्ग के छात्रों की ही स्कॉलरशिप में कटौती की गई है। अन्य वर्ग के छात्रों को पूरी छात्रवृत्ति दी जा रही है। डेवलपमेंट फीस के नाम पर विभाग से हमारी स्कॉलरशिप में कटौती की जा रही है।