Rajasthan: नागौर की अंबुजा फैक्ट्री में मजदूर की मौत के बाद बवाल, एंबुलेंस को आग के हवाले किया

Nagaur Ambuja Factory Clash: मजदूरों का आरोप है कि फैक्ट्री में ज़रूरत से ज़्यादा काम कराया जाता है, समय पर भत्ता भी नहीं दिया जाता

Updated: Jan 13, 2021, 01:32 PM IST

Rajasthan: नागौर की अंबुजा फैक्ट्री में मजदूर की मौत के बाद बवाल, एंबुलेंस को आग के हवाले किया
Photo Courtesy: Zoomnews

जयपुर। राजस्थान के नागौर में अंबुजा की सीमेंट फैक्ट्री में काम करने वाले एक मजदूर की मंगलवार रात को मौत हो गई। मजदूर की मौत की खबर मिलने के बाद बुधवार सुबह तक फैक्ट्री में काम करने वाले मजदूरों की भीड़ पहुंच गई। प्रबंधन पर गुस्साए लोगों ने फैक्ट्री में जमकर तोड़फोड़ और पथराव किया। प्रशासन ने उन्हें रोकने की कोशिश की, तो गुस्साए मजदूरों ने वहां मौजूद एंबुलेंस को ही आग के हवाले कर दिया।

दरअसल मंगलवार रात बिहार के रहने वाले विजेंद्र चौधरी की फैक्ट्री में ही गिरने से मौत हो गई। अपने साथी मजदूर की मौत की खबर सुनकर फैक्ट्री में काम करने वाले मजदूर गुस्सा हो गए। फैक्ट्री प्रबंधन पर शोषण का आरोप लगा कर उन्होंने फैक्ट्री में जमकर पथराव और तोड़फोड़ करना शुरू कर दिया। वहां पर मौजूद प्रशासन ने संभालने की कोशिश की लेकिन हालात बेकाबू होते गए। मजदूरों ने फैक्ट्री में खड़े वाहनों को भी आग लगा दिया। फैक्ट्री में काम करने वाले मजदूर अपने साथी मजदूर के शव को देखने की मांग कर रहे थे। लेकिन जब मजदूरों को मृतक के शव को देखने नहीं दिया गया, तब उन्होंने एंबुलेंस को भी आग के हवाले कर दिया। 

मजदूरों के गुस्से की वजह क्या है 

दरअसल मजदूरों का कहना है कि फैक्ट्री प्रबंधन जमकर उनका शोषण करता है। मजदूरों का आरोप है कि फैक्ट्री प्रबंधन उनसे ज़रूरत से ज़्यादा काम करवाता है, जबकि उनके भत्तों और अन्य राशि का भुगतान समय पर नहीं किया जाता। फैक्ट्री में मजदूरों की सुरक्षा का भी कोई खयाल नहीं रखा जाता है। वे काफी समय से इन्हीं बातों को लेकर फैक्ट्री प्रबंधन से शिकायत भी कर रहे थे लेकिन, उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही थी। 

फिलहाल मृतक मज़दूर के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। प्रशासन का कहना है कि मृतक की मौत हार्ट अटैक की वजह से हुई है। लेकिन वास्तविक जानकारी पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मिल सकेगी।