राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक से पहले आज पीएम मोदी करेंगे रोड शो, कांग्रेस ने बताया भारत जोड़ो यात्रा का असर

मिशन 2024 को लेकर बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक सोमवार से शुरू हो रही है। इस दो दिवसीय बैठक में आगामी विधानसभा एवं लोकसभा चुनावों के लिए रणनीति बनेगी और कई बड़े फैसले भी लिए जा सकते हैं।

Updated: Jan 16, 2023, 10:44 AM IST

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक से पहले आज पीएम मोदी करेंगे रोड शो, कांग्रेस ने बताया भारत जोड़ो यात्रा का असर

नई दिल्ली। भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक 16 और 17 जनवरी को दिल्ली में हो रही है। इस दो दिवसीय बैठक से पहले सोमवार को दिल्ली में PM मोदी रोड शो भी करेंगे। ये रोड शो पटेल चौक से पार्लियामेंट स्ट्रीट तक निकाला जाएगा। विपक्षी दल कांग्रेस ने इसे भारत जोड़ो यात्रा का बौखलाहट करार दिया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक से पहले 11 बजे से बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा देशभर के प्रभारी और सहप्रभारियों के साथ बैठक करेंगे। 3 बजे जेपी नड्डा NDMC बिल्डिंग में कई थीमों पर बनी प्रदर्शनी का उद्घाटन करेंगे। फिर 4 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का रोड शो पटेल चौक से लेकर NDMC तक करीब एक किलोमीटर का होगा। 

यह भी पढ़ें: रिमोट वोटिंग प्रणाली का विरोध करेंगे विपक्षी दल, कांग्रेस की पहल पर सोलह विपक्षी पार्टियों में बनी सहमति

इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा समेत सभी महासचिव, भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री, सभी प्रदेशाध्यक्ष और बाकी पदाधिकारी शामिल होंगे। बताया जा रहा है कि बैठक में आगामी विधानसभा एवं लोकसभा चुनावों के लिए रणनीति बनेगी और कई बड़े फैसले भी लिए जा सकते हैं। बैठक से पहले बीजेपी दफ्तर में रेड कार्पेट बिछाए गए हैं। 

उधर कांग्रेस ने दिल्ली में होने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रोड शो को लेकर तीखा हमला बोला है। कांग्रेस के राज्यसभा सांसद जयराम रमेश ने कहा कि, पीएम मोदी भारत जोड़ो यात्रा की सफलता से परेशान हैं इसलिए ये रोड शो कर रहे हैं।

जयराम रमेश ने ट्वीट किया, "भारत जोड़ो यात्रा की भारी सफलता से बौखलाए एक असुरक्षित प्रधानमंत्री ने कल राष्ट्रीय राजधानी में कुछ ही दूरी से गुजरने वाले एक मजाकिया रोड शो के आयोजन के लिए बीजेपी को मजबूर कर दिया है। इस तरह के खोखले, कोरियोग्राफ किए गए कार्यक्रम उनके ढोल बजाने वालों को व्यस्त रखेंगे।'