भारत में 5G युग की शुरुआत: इंडिया मोबाइल कांग्रेस में पीएम मोदी ने लॉन्च की 5G सेवा

देश में आज से 5G मोबाइल सर्विसेस की शुरुआत होने जा रही है। एयरटेल और जियो अब से 5G सेवाएं की भी शुरुआत करेगी।

Updated: Oct 01, 2022, 11:37 AM IST

भारत में 5G युग की शुरुआत: इंडिया मोबाइल कांग्रेस में पीएम मोदी ने लॉन्च की 5G सेवा

नई दिल्ली। भारत में 5G सेवाओं का इंतजार अब खत्म हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज 5जी टेलीफोनी सेवाओं की शुरुआत कर दी इसके साथ ही भारत में मोबाइल फोन पर अल्ट्रा हाई-स्पीड इंटरनेट के नए युग का आगाज हुआ है। दिल्ली में आयोजित इंडिया मोबाइल कांग्रेस 2022 कार्यक्रम के मंच से पीएम ने इस सेवा की शुरुआत देश के चुनिंदा शहरों में की।

दिल्ली में आयोजित इंडिया मोबाइल कांग्रेस 2022 कार्यक्रम के मंच से पीएम मोदी ने इस सेवा की शुरुआत की। आज से देश के 13 शहरों में 5जी सेवा शुरू हो गई है। साल 2023 तक इस सेवा से का विस्तार पूरे देश में करने की योजना है। 5जी इटरनेट सर्विस में 4G से दस गुना ज्यादा स्पीड मिलेगी, जिससे लोगों को इंटरनेट एक्सेस करने और मूवी, गेम्स, ऐप और अन्य जीजों को डाउनलोड करने में बहुत ही कम समय लगेगा। 

5जी सेवा को लॉन्च करने से पहले पीएम मोदी ने दिल्ली के प्रगति मैदान में भारतीय मोबाइल कांग्रेस (आईएमसी) के छठे संस्करण का उद्घाटन किया। यहां पर रिलायंस जियो के चेयरमैन आकाश अंबानी ने पीएम मोदी को 5जी सेवाओं के बारे में जानकारी दी। देश की दो बड़ी मोबाइल कंपनियां देश में 5G सर्विसेस देंगी। एयरटेल वाराणसी और जियो अहमदाबाद के एक गांव से 5G की शुरुआत करेगी।

इंडियन मोबाइल कांग्रेस में जाने से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने एक ट्वीट में लिखा, 'देश में 5G क्रांति की शुरुआत होने जा रही है। मैं खासतौर पर टेक वर्ल्ड, स्टार्टअप जगत और मेरे युवा दोस्तों से अपील करता हूं कि वे इस कार्यक्रम से जुड़ें। यह आयोजन 4 दिन तक चलेगा।' पीएम नरेंद्र मोदी ने Jio Glass के जरिए 5G टेक्नोलॉजी को एक्सपीरियंस किया। उन्होंने युवा Jio इंजीनियरों की एक टीम द्वारा एंड-टू-एंड 5G तकनीक के स्वदेशी विकास को भी समझा। 

बता दें कि रिलायंस जियो और एयरटेल ने अक्टूबर से देश में 5G Roll out करने का ऐलान पहले ही कर दिया है। मोबाइल कम्युनिकेशन नेटवर्क में नेक्स्ट जेनरेशन 5G नेटवर्क के साथ, 4जी की तुलना में ज्यादा तेज स्पीड मिलेगी। माना जा रहा है कि 5G रोलआउट के साथ ही देश में क्लाउड गेमिंग, AR/VR टेक्नोलॉजी, IoT (Internet Of Things) आदि में स्पीड आएगी।

5G नेटवर्क को देश के 13 बड़े शहरों में सबसे पहले रोल आउट किया जाएगा। इस लिस्ट में दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता, बेंगलुरू, चंडीगढ़, गुरुग्राम, हैदराबाद, लखनऊ, पुणे, गांधीनगर, अहमदाबाद और जामनगर शामिल हैं। मोबाइल कांग्रेस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री के साथ दूरसंचार मंत्री अश्विनी वैष्णव, दूरसंचार राज्य मंत्री देवुसिंह चौहान, रिलायंस के चेयरमैन मुकेश अंबानी और रिलायंस जियो के चेयरमैन आकाश अंबानी भी उपस्थित थे।