पीएम नरेंद्र मोदी ने कसा राहुल गांधी पर तंज़ कहा, दोनों सदनों को मिलाकर कांग्रेस के पास 100 सांसद भी नहीं

मोदी ने कहा, जंगलराज के साथी चाहते हैं कि बिहार की जनता 'जय श्री राम' और 'भारत माता की जय' भी ना बोलें, आरजेडी ने कहा- जेडीयू और बीजेपी का बेमन विवाह

Updated: Nov 03, 2020, 05:13 PM IST

पीएम नरेंद्र मोदी ने कसा राहुल गांधी पर तंज़ कहा, दोनों सदनों को मिलाकर कांग्रेस के पास 100 सांसद भी नहीं
Photo Courtesy: ZEENews

पटना। बिहार में विधानसभा के दूसरे चरण के मतदान के बीच पीएम नरेंद्र मोदी ने अररिया व सहरसा में जनसभाओं को संबोधित किया। मोदी इस दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी और आरजेडी सीएम पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव पर निशाना साधना न भूले। मोदी ने राहुल पर तंज कसते हुए कहा कि आज कांग्रेस के पास लोकसभा व राज्यसभा दोनों सदनों में कुल मिलाकर 100 सीटें भी नहीं हैं। यह हालत उनकी कथनी और करनी में अंतर की वजह से हुई है।

और पढ़ें: P. Chidambaram: हाथ खाली, जेब खाली, पेट खाली, यही है बिहार सरकार का नारा

पीएम मोदी ने अररिया में कहा, 'कुछ लोगों को यह परेशानी है कि मोदी चुनाव कैसे जीतता है। मैं उन्हें बता दूं कि मोदी चुनाव इसलिए जीतता है क्योंकि माताओं-बहनों की चिंता दूर करने का काम मोदी करता है। इसलिए माताएं मोदी को आशीर्वाद देती रहती हैं। इसलिए ये गरीब का बेटा, गरीबों की सेवा में अपना जीवन खपाता रहता है।' उन्होंने आगे कहा कि, 'आज बिहार में परिवारवाद हार रहा है, जनतंत्र फिर जीत रहा है। रंगबाज़ी और रंगदारी हार रही है, विकास फिर जीत रहा है। अहंकार हार रहा है, परिश्रम फिर जीत रहा है। घोटाला हार रहा है, लोगों का हक फिर जीत रहा है।'

 

 

वो चाहते हैं कि आप 'जय श्री राम' न कहें

पीएम ने सहरसा की रैली में वोटों के ध्रुवीकरण का प्रयास करते हुए कहा कि विपक्ष चाहता है कि बिहार के लोग जय श्री राम न कहें। उन्होंने कहा, 'बिहार को जंगलराज बनाने वालों के साथी, उनके करीबी चाहते हैं, कि आप भारत माता की जय के नारे न लगाएं। वो चाहते हैं कि छठी मैया को पूजने वाली इस धरती पर, भारत माता की जय के नारे न लगें। वो चाहते हैं, यही नहीं, आप जय श्री राम भी न बोलें, वो ये चाहते हैं।बिहार के चुनाव प्रचार में मां भारती का जयकारा इन लोगों को रास नहीं आ रहा है।'

 

 

पीएम मोदी ने सहरसा रैली में सीएम नीतीश की जमकर तारीफें की। उन्होंने कहा, 'राज्य पिछले 15 वर्षों में नीतीश कुमार के नेतृत्व में असुरक्षा और अराजकता के अंधेरे को पीछे छोड़ दिया है। बिहार वो दिन भूल नहीं सकता, जब यहां चुनाव का मतलब था- चारो तरफ हिंसा, हत्याएं, बूथ कैप्चरिंग। गरीबों को घरों में कैद करके, उनके नाम से जंगलराज वाले खुद वोट दिया करते थे। बिहार में गरीब को सही मायनों में मतदान का अधिकार एनडीए ने दिया है।'

और पढ़ें: राहुल गांधी ने कहा मैं आरएसएस और बीजेपी से नहीं डरता, मैं सच्चाई का सिपाही हूं

बेमन शादी में कनपटी में सिंदूर

इधर मोदी और नीतीश के ताबड़तोड़ रैलियों के बीच आरजेडी ने भी एनडीए गठबंधन को लेकर दिलचस्प टिप्पणी की है। आरजेडी का युथ विंग युवा राजद ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से एक शादी का वीडीए शेयर किया है। इस वीडियो में देखा जा सकता है कि एक लड़का और लड़की की जबरन विवाह कराई जा रही है जिसमें लड़का लड़की के कनपट्टी में सिंदूर लगा देता है।

 

 

इस वीडियो के साथ राजद ने बीजेपी और जेडीयू का गठबंधन बताया है। साथ ही लिखा है की बेमन शादी में कनपट्टी में ही सिंदूर। जेडीयू और बीजेपी को लेकर यब बात पूर्व सीएम लालू यादव भी कई बार सार्वजनिक रूप से बोल चुके हैं। बता दें कि मंगलवार को बिहार के 94 विधानसभा सीटों पर दूसरे चरण के चुनाव हो रहे हैं। वहीं तीसरे चरण का चुनाव 7 नवंबर को होगा और नतीजे 10 नवंबर को आएंगे।