चांदी का चिलम रखते हैं सीएम नीतीश, गांजा पिए बगैर सदन में नहीं आते, पद्मश्री से सम्मानित बीजेपी MLA का अजीबोगरीब आरोप

पद्मश्री सम्मान से नवाजी जा चुकीं पांच बार की बीजेपी विधायक भागीरथी देवी ने एक जनसभा को संबोधित करने हुए मुख्यमंत्री पर ये आरोप मढ़ा

Updated: Aug 14, 2022, 04:20 PM IST

चांदी का चिलम रखते हैं सीएम नीतीश, गांजा पिए बगैर सदन में नहीं आते, पद्मश्री से सम्मानित बीजेपी MLA का अजीबोगरीब आरोप

पटना। बिहार में गठबंधन टूटने के बाद भाजपा नेताओं की बौखलाहट अनर्गल आरोपों के रूप में सामने आ रही है। पद्मश्री सम्मान से नवाजी जा चुकीं भाजपा विधायक भागीरथी देवी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हैरान करने वाले आरोप मढ़ा है। उन्होंने दावा किया कि मुख्यमंत्री के पास चांदी का चिलम है और वे बिना गांजा पिए कभी विधानसभा में नहीं आते।

रामनगर प्रखंड मुख्यालय में शनिवार को आयोजित धरना प्रदर्शन के दौरान स्थानीय बीजेपी विधायक भागीरथी देवी ने कहा कि, 'नीतीश की आंख में धुआं और हाथ में चिलम रहता है। चिलम पर बात करते हैं। चिलम पर ही चलते हैं। वह जब तक चिलम नहीं चढ़ाते हैं (सेवन करना), तब तक वह विधानसभा में अंदर आकर नहीं बैठते हैं।'

पांच बार कि विधायक रह चुकीं भागीरथी देवी ने आगे कहा कि, 'नीतीश विधानसभा से उठते हैं और लॉबी में जाते हैं। ऑफिस में, जहां वह गांजा पीते हैं। फिर आकर वह सदन में वापस बैठते हैं। वह तो गांजा पीकर बात करते हैं। चिलम हाथ में रहता है। उनके पास तो चांदी का चिलम है। उनका हाल हम जानते हैं। उनका क्या कायदा, विचार, वैल्यू है...उन पर कोई यकीन नहीं करता है।'

भाजपा नेता ने आगे कहा कि, 'नीतीश कुमार पलटू होने के साथ-साथ बहुत बड़े नशेबाज है। खुद सरकार में रह कर दारू बिकवाते हैं। गरीब निर्दोष को जेल भिजवाते हैं। पुरुष होकर भी वे महिलाओं की तरह हरकतें करते हैं। वे यहां की बात वहां और वहां की बात यहां करने में माहिर हैं।' भागीरथी देवी को साल 2019 में नरेंद्र मोदी ने पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया था।

बता दें कि बिहार में भाजपा को झटका देने के बाद नीतीश कुमार ने जिस तरह आरजेडी के साथ गठबंधन करके अपनी सरकार बनाई है, उससे भाजपा नेताओं में बौखलाहट है। पार्टी के विधायक और अन्य नेता पूरे राज्य में जगह-जगह धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं। इस दौरान वे लगातार सीएम के खिलाफ अनाप शनाप बयानबाजी करने से भी बाज नहीं आ रहे।