CoviFind को मिली ICMR से मंजूरी, अब खुद से कर सकेंगे कोरोना जांच

आईसीएमआर ने कोरोना सेल्फ टेस्ट के लिए CoviFind डिवाइस की मंजूरी दी है, इसकी कीमत 250 रुपए होगी, जल्द ही यह बाजारों में उपलब्ध होगी

Updated: Jun 11, 2021, 10:25 AM IST

CoviFind को मिली ICMR से मंजूरी, अब खुद से कर सकेंगे कोरोना जांच
Photo Courtesy: ABP

नई दिल्ली। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने सेल्फ टेस्टिंग के लिए CoviFind डिवाइस को मंजूरी दे दी है। इस कीट से लोग अब अपने घर बैठे खुद से कोरोना टेस्ट कर सकेंगे। मेडिटेक कंपनी Meril ने इस टेस्टिंग कीट को स्वदेशी तकनीक से तैयार किया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक CoviFind ऐप से कोरोना टेस्ट करने पर 15 मिनट के भीतर ही रिजल्ट आ जाते हैं। खास बात यह है कि इस किट को रखने के लिए रेफ्रिजेरेटर की भी जरूरत नहीं है। आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के लिए भी यह किट उपयोगी है, चूंकि इसकी कीमत महज 250 रुपए हैं। कोविफाइंड किट में टेस्टिंग मैटेरियल लगा है जिनमें एक टेस्टिंग डिवाइस, एक स्ट्राइल नजल स्वैब और कैप के साथ एक बफर ट्यूब  भी शामिल है।

यह भी पढ़ें: दाढ़ी बनाने के लिए चाय वाले ने मोदी को भेजा 100 रुपए का मनीऑर्डर, बोला- रोजगार बढ़ाएं, दाढ़ी नहीं

मरीजों की सहूलियत के लिए टेस्टिंग किट के भीतर एक लीफफ्लेट होगा जिसमें किट का उपयोग किस तरह से करना है, इस संबंध में विस्तृत जानकारी होगी। सैंपल लेने के बाद इसे किस तरह ट्यूब में रखना होगा, इसकी स्टेप बाय स्टेप जानकारी होगी। आईसीएमआर की एडवाइजरी के मुताबिक जिस व्यक्ति में कोरोना के लक्षण है, या जो RT-PCR में कंफर्म पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में आया है, वही इस टेस्ट किट से जांच कर सकता।

आईसीएमआर ने एडवाइजरी जारी कर कहा है कि इस टेस्ट के ज़रिए जिन मरीज़ों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आएगी उन्हें वायरस से संक्रमित माना जाएगा। इसके बाद दोबारा किसी टेस्ट की जरूरत नहीं पड़ेगी। उम्मीद की जा रही है कि इस कीट के आने के बाद टेस्टिंग और ट्रेसिंग में बढ़ोतरी होगी।