डीके शिवकुमार की बेटी की एसएम कृष्णा के नाती से सगाई, सीएम येदुरप्पा आशीर्वाद देने पहुंचे

कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष की लाड़ली बेटी ऐश्वर्या की शादी कैफे कॉफी डे के फाउंडर स्वर्गीय वी जी सिद्धार्थ के बेटे अमर्त्य हेगड़े से होने वाली है

Updated: Nov 19, 2020, 05:40 PM IST

डीके शिवकुमार की बेटी की एसएम कृष्णा के नाती से सगाई, सीएम येदुरप्पा आशीर्वाद देने पहुंचे
Photo courtesy: One India

बेंगलुरु। दो राजनीतिक विरोधी अब रिश्तेदार बनने जा रहे हैं। कर्नाटक के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डीके शिवकुमार की बेटी ऐश्वर्या की सगाई कैफे कॉफी डे के फाउंडर स्वर्गीय वी.जी. सिद्धार्थ के बेटे अमर्त्य हेगड़े से हुई। अमर्त्य कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और देश के पूर्व विदेश मंत्री एसएम कृष्णा के नाती हैं। एसएम कृष्णा दशकों तक कांग्रेस के बड़े नेता रहने के बाद तीन साल पहले बीजेपी में शामिल हो चुके हैं। इस हाईप्रोफाइल सगाई में कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने भी शिरकत की। इस कार्यक्रम में बीजेपी और कांग्रेस के कई दिग्गज नेता पहुंचे और ऐश्वर्या और अमर्त्य हेगड़े को आशीर्वाद दिया।

यह हाई प्रोफ्राइल सगाई एक होटल में सादे समारोह में हुई। पिछले दिनों ऐश्वर्या और अमर्त्य की कुमकुम सेरेमनी हुई थी। जो अमर्त्य हेगडे के नाना और बीजेपी के दिग्गज नेता एसएम कृष्णा के घर धूमधाम से हुई थी। कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने इस रिश्ते के बारे में कहा था कि जोड़ियां ऊपर वाला बनाता है। अगर ऊपर वाले को मंजूर है तो रिश्ता होकर ही रहेगा। एश्वर्या और अमर्त्य की शादी अगले साल फरवरी में होगी।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डीके शिवकुमार कर्नाटक की राजनीति में बड़ा नाम हैं। कांग्रेस का प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने से पहले भी वे राज्य में पार्टी के संकटमोचक माने जाते रहे हैं। उनकी बेटी ऐश्वर्या मैनेजमैंट की पढ़ाई कर चुकी हैं। शिवकुमार का नाम मनी लॉन्ड्रिंग में आने पर ऐश्वर्या से भी ईडी ने पूछताछ की थी। बेटी ऐश्वर्या के नाम पर 108 करोड़ रुपए संपत्ति घोषित है। वे अपने पिता डीके शिवकुमार के एक एजुकेशनल ट्रस्ट की ट्रस्टी हैं, और कई इंजीनियरिंग कॉलेजों का संचालन करती हैं। आपको बता दें कि अमर्त्य हेगड़े के पिता और सीसीडी के संस्थापक वीजी सिद्धार्थ ने कर्ज से परेशान होकर पिछले साल जुलाई में खुदकुशी कर ली थी। सिद्धार्थ की लाश मेंगलूरु में नेत्रावती नदी के ब्रिज के पास से मिली थी।