दुर्घटना के एक हफ़्ते बाद घायल ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का निधन, कुन्नूर हेलीकॉप्टर क्रैश में 14वीं मौत

आठ दिसंबर को कुन्नूर हादसे में सीडीएस बिपिन रावत, उनकी पत्नी सहित कुल तेरह लोगों का निधन हो गया था, हादसे में जीवित बचे इकलौते व्यक्ति ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का भी आज निधन हो गया

Updated: Dec 15, 2021, 01:39 PM IST

दुर्घटना के एक हफ़्ते बाद घायल ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का निधन, कुन्नूर हेलीकॉप्टर क्रैश में 14वीं मौत
Photo Courtesy: Amar Ujala

नई दिल्ली। कुन्नूर हादसे में जीवित बचे इकलौते व्यक्ति ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का भी निधन हो गया है। मंगलवार को वरुण सिंह ने अंतिम सांसें ली। खुद इंडियन एयर फोर्स ने ट्वीट कर वरुण सिंह के निधन की जानकारी दी है। 

भारतीय वायुसेना ने अपने जांबाज योद्धा को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा है कि भारतीय वायुसेना बड़ी पीड़ा के साथ यह सूचित करता है कि जांबाज ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का निधन हो गया है। हेलीकॉप्टर क्रैश में गंभीर रूप से जख्मी होने के कारण आज सुबह उनका निधन हो गया। भारतीय वायुसेना इस दुख की घड़ी में उनके परिवार के साथ खड़ी है।

बीते आठ दिसंबर को कुन्नूर में हुए हेलीकॉप्टर क्रैश में सीडीएस बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत सहित कुल तेरह लोगों का निधन हो गया था। कुल 14 लोग इस हादसे का शिकार हुए थे। जिसमें ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह ही केवल जीवित बचे थे। ग्रुप कैप्टन का बेंगलुरु के आर्मी अस्पताल में इलाज चल रहा था। उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था। लेकिन आज सुबह वरुण सिंह जिंदगी की जंग हार गए।

व्वरुम सिंह उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले के रहने वाले थे। वरुण सिंह एयर फोर्स में ग्रुप कैप्टन अभिनंदन के बैच मेट थे। अभिनंदन ने ही फरवरी 2019 में पाकिस्तानी वायुसेना के विमान F 16 को गिरा दिया था। जिसके बाद वे पाकिस्तान में दाखिल हो गए थे।