आतंकवाद न तो नोटबंदी से रुका और न ही धारा 370 हटाने से, केंद्र पर बरसे राहुल गांधी

श्रीनगर के संगम इलाके में स्थित गवर्नमेंट ब्वायज़ स्कूल में गुरुवार सुबह आतंकवादियों ने गोलीबारी की, इस दौरान स्कूल की प्रिंसिपल सुपिंदर कौर और टीचर दीपक चंद की निर्मम हत्या कर दी गई

Updated: Oct 07, 2021, 05:30 PM IST

आतंकवाद न तो नोटबंदी से रुका और न ही धारा 370 हटाने से, केंद्र पर बरसे राहुल गांधी
Photo - twitter/dharmendra singh

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर में लगातार बढ़ते आतंकी घटनाओं को लेकर राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने मृतकों के परिजनों के प्रति अपना शोक प्रकट किया है। इसके साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार को उसके दावों की याद दिलाते हुए कहा है कि आतंकवाद न तो नोटबंदी से रुका और न ही धारा 370 के हटाए जाने से आतंकवाद पर किसी प्रकार की रोक लग पाई।

राहुल गांधी ने गुरुवार सुबह श्रीनगर के एक स्कूल में हुए आतंकी हमले की निंदा करते हुए कहा कि कश्मीर में हिंसा की घटनाएँ बढ़ती जा रही हैं। आतंकवाद ना तो नोटबंदी से रुका ना धारा 370 हटाने से- केंद्र सरकार सुरक्षा देने में पूरी तरह असफ़ल रही है। हमारे कश्मीरी भाई-बहनों पर हो रहे इन हमलों की हम कड़ी निंदा करते हैं व मृतकों के परिवारों को शोक संवेदनाएँ भेजते हैं।

गुरुवार सुबह को श्रीनगर में ईदगाह के संगम इलाके में स्थित गवर्नमेंट ब्वायज़ स्कूल में आतंकवादी घुस गए।आतंकियों ने स्कूल में गोलीबारी करना शुरू कर दिया। इस दौरान स्कूल की प्रिंसिपल सुपिंदर कौर और टीचर दीपक चंद लहूलुहान हो कर गिर पड़े। उन्हें इलाज के लिए नज़दीकी अस्पताल ले जाया गया लेकिन तब तक दोनों की मृत्यु हो चुकी थी। 

 

बीते एक हफ्ते में जम्मू कश्मीर में आतंकी हमलों के दौरान सात नागरिकों की हत्या की जा चुकी है। मंगलवार को ही आतंकियों ने तीन लोगों की हत्या कर दी थी। बांदीपोरा ज़िले में सूमो संगठन के अध्यक्ष नायदखाई मोहम्मद शफी की हत्या की गई, इसके बाद एक अन्य व्यवसायी को गोली मार दी गई। आतंकियों ने बिहार के सीवान के रहने वाले वीरेंद्र पासवान को भी जान से मार डाला। वीरेंद्र कुमार पासवान पानी पुरी बेचने का काम किया करते थे। 

2016 में जब मोदी सरकार ने नोटबंदी लागू की थी, तब इस फैसले को जायज़ ठहराने के पीछे मोदी सरकार के मंत्रियों सहित बीजेपी के तमाम नेता यह तर्क दे रहे थे कि इस फैसले से आतंकवाद को बुरी चोट पहुँचेगी। बीजेपी के नेताओं का कहना था कि टेरर फंडिंग ब्लैक मनी के रूप में ही होती है। लिहाज़ा नोटबंदी करने की वजह से आतंकवाद पर नियंत्रण पाने में बड़ी कामयाबी मिलेगी। नोटबंदी के ठीक ढाई साल के बाद जब मोदी सरकार ने जम्मू कश्मीर से धारा 370 को हटा दिया। मोदी सरकार का दावा था कि जम्मू कश्मीर को प्रगति की राह पर ले जाने के लिए और आतंकवाद के खात्मे के उद्देश्य से यह निर्णय लिया गया है। लेकिन जम्मू कश्मीर के मौजूदा हालात बताते हैं कि मोदी सरकार के आसमानी दावे धरातल से काफी दूर हैं।