JEE NEET Exams: प्रवेश परीक्षाएं स्थगित करने के लिए ममता बनर्जी का प्रधानमंत्री को पत्र

Mamta Banerjee: ऐसे कदम ना उठाएं जिससे छात्रों का जीवन खतरे में पड़े, पहले भी राहुल गांधी और सुब्रमण्यम स्वामी भी कर चुके हैं परीक्षाओं को स्थगित करने की मांग

Updated: Aug-25, 2020, 03:36 PM IST

JEE NEET Exams: प्रवेश परीक्षाएं स्थगित करने के लिए ममता बनर्जी का प्रधानमंत्री को पत्र
Photo Courtesy: the prevalent india

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने JEE और NEET की प्रवेश परीक्षाएं स्थगित करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। ये प्रवेश परीक्षाएं सितंबर में होनी हैं। कोरोना वायरस महामारी के दौरान इन परीक्षाओं को ना कराने के लिए डाली गईं याचिकाओं को सुप्रीम कोर्ट ने पिछले सप्ताह रद्द कर दिया था। 

अपने पत्र में बनर्जी ने लिखा, “केंद्र सरकार को ऐसा फैसला नहीं लेना चाहिए जिससे छात्र नाराज हों। साथ ही सरकार को यह भी सुनिश्चित करना चाहिए कि छात्रों को परीक्षाएं देने का अवसर मिले। मुझे विश्वास है कि आप इस बात को समझेंगे और स्थिति समान्य हो जाने तक इन परीक्षाओं को स्थगित करेंगे।”

अपने पत्र में ममता बनर्जी ने सितंबर अंत में वार्षिक परीक्षाएं कराने के लिए यूजीसी द्वारा जारी किए गए दिशा निर्देशों पर भी निराशा जताई। उन्होंने कहा कि इस फैसले से विद्यार्थियों की जान जोखिम में पड़ने की प्रबल आशंका है। उन्होंने कहा कि इस महामारी के समय में हमें ऐसे एकतरफा प्रशासनिक फैसले नहीं लेने चाहिए जिससे किसी की भी जिंदगी खतरे में पड़े।

इससे पहले 23 अगस्त को कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी इस संबंध में ट्वीट करते हुए कहा था कि केंद्र सरकार को छात्रों के मन की बात सुननी चाहिए और एक बीच का रास्ता तलाशना चाहिए। उनके इस ट्वीट के बाद कई और नेताओं ने सितंबर में जेईई और नीट की प्रवेश परीक्षाएं कराने का विरोध किया था। 

Clickराहुल गांधी ने कहा NEET और JEE के छात्रों के मन की बात सुने पीएम मोदी

बीजेपी के ही सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने 21 अगस्त को ट्वीट कर प्रधानमंत्री मोदी से ये परीक्षाएं दीपावली के बाद आयोजित कराने के लिए कहा था। उन्होंने कहा था कि महामारी के बीच परीक्षाएं कराने का ढांचा देश में नहीं है और इसके चलते युवाओं के बीच व्यापक तौर पर निराशा है क्योंकि ये परीक्षाएं उनके लिए आर या पार की लड़ाई हैं। 

इस सबके बीच नेशनल टेस्टिंग एजेंसी इस बात पर अडिग है कि प्रवेश परीक्षाएं सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार तय समय पर ही होंगी।