कर्नाटक के शिवमोगा में भयानक धमाका, मृतकों की संख्या बढ़कर 15 हुई

विस्फोट इतना भीषण था कि कई घरों के शीशे टूट गए, लोगो भूकंप की अटकलें लगा रहे थे, पीएम मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने हादसे में मारे गए लोगों के लिए दुख जताया है

Updated: Jan 22, 2021, 11:16 AM IST

कर्नाटक के शिवमोगा में भयानक धमाका, मृतकों की संख्या बढ़कर 15 हुई
Photo Courtesy: TheQuint

शिवमोगा। कर्नाटक का शिवमोगा जिला देर रात हुए भीषण धमाके की गूंज से दहल उठा। अब तक इस विस्फोट में 15 लोगों के मारे जाने की खबर है। आशंका है कि मृतकों की संख्या अभी और बढ़ सकती है। धमाका इतना भीषण था कि आसपास के घरों के शीशे टूट गए। इतना ही नहीं 50 किलोमीटर के दायरे में तेज झटके महसूस किए गए। लोगों को पहले तो लगा कि यह तेज भूकंप के झटके हैं। हादसे में लोगों के मारे जाने पर पीएम मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने दुख जताया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यालय ने ट्वीट किया, 'शिवमोगा में जानमाल के नुकसान से आहत। शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना। प्रार्थना है कि घायल जल्द ठीक हो जाएं। राज्य सरकार प्रभावितों को हर संभव सहायता प्रदान कर रही है।

हादसे पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा, 'कर्नाटक के पत्थर खनन खदान में विस्फोट की खबर दुखद है। पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना। इस तरह के हादसों की गहराई से जांच करनी चाहिए ताकि भविष्य में इसी तरह के हादसों से बचा जा सके।'

 

 

बताया जा रहा है कि गुरुवार देर रात ट्रक में भरकर विस्फोटक लाया जा रहा था। विस्फोटक खनन के दृष्टिकोण से लाए जा रहे थे। तभी पत्थर तोड़ने के एक स्थान पर रात करीब साढ़े 10 बजे यह धमाका हुआ। घटनास्थल के मंजर का अंदाजा इसी बात से लगाई जा सकती है कि सिर्फ शिवमोगा ही नहीं बल्कि आसपास के जिले चिक्कमगलुरु और दावणगेरे में भी इसके झटके महसूस किए गए।

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि विस्फोट इतना तेज था कि घरों की खिड़की के शीशे टूट गए और सड़कों पर भी दरारें आ गईं। धमाके से ऐसा लगा जैसे भूकंप आ गया हो और भूगर्भ वैज्ञानिकों से संपर्क किया गया। लोगों ने तो सोशल मीडिया के माध्यम से यह बात भी फैला दी कि कर्नाटक में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। हालांकि, बाद में भूगर्भ वैज्ञानिकों ने भूकंप की बात से इनकार किया।