विज्ञापन के लिए अखबार में छापो सरकार की तारीफ, अखबार के लिए एड मांगने वाली पत्रकार को ममता का जवाब

ममता बनर्जी का एक वीडियो इस समय सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें ममता बनर्जी से एक पत्रकार ने अपने अखबार की माली हालत का जिक्र किया और कहा कि उनके अखबार को सरकार की तरफ से एड नहीं मिलता, इस पर सीएम ममता ने विज्ञापन के लिए सरकार के समर्थन में खबरों को प्रकाशित करने की बात कह डाली

Updated: Dec 06, 2021, 03:28 PM IST

विज्ञापन के लिए अखबार में छापो सरकार की तारीफ, अखबार के लिए एड मांगने वाली पत्रकार को ममता का जवाब

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी का एक वीडियो इस समय सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें ममता बनर्जी एक पत्रकार को विज्ञापन पाने के लिए अपनी सरकार की तारीफ करने की हिदायत दे रही हैं। इतना ही नहीं टीएमसी प्रमुख ने पत्रकार को रोजाना अखबार की एक कॉपी डीएम कार्यालय में जमा करने के लिए कहा डाला। 

सीएम ममता बनर्जी से ग्रामीण क्षेत्र के एक पत्रकार ने अपने अखबार की माली हालत और आर्थिक तंगी की समस्या साझा की। पत्रकार ने सीएम को बताया कि सरकार की ओर से अखबार को विज्ञापन नहीं मिलते हैं। इस पर सीएम ममता बनर्जी ने चौंकाने वाला जवाब दिया।ममता बनर्जी ने बांग्ला में जवाब देते हुए कहा कि अगर विज्ञापन चाहिए तो अखबार में सरकार के बारे में पॉजिटिव न्यूज प्रकाशित करना होगा। 

महिला पत्रकार ने सीएम से कहा कि उनके अखबार को सरकारी विज्ञापन नहीं मिलते, जिस वजह से उनके अखबार की आर्थिक अवस्था काफी खराब है। इस पर ममता बनर्जी ने कहा कि जो भी ग्रामीण पत्रिका या अखबार सरकार के बारे में पॉजिटिव खबरें प्रकाशित करेगा, उस अखबार को विज्ञापन देने के लिए मैं डीएम से कहूंगी। 

सीएम ममता ने कहा कि अपने कामों की पब्लिसिटी करने के सरकार हमेशा मशीनरी का उपयोग नहीं करती। टीएमसी प्रमुख ने कहा कि इसी कार्यक्रम को टीवी मीडिया सिर्फ एक बार दिखाएगा, लेकिन ग्रामीण अखबार इसे राज्य के कोने कोने तक पहुंचा देंगे। ममता बनर्जी ने महिला पत्रकार को अखबार की कॉपी डीएम कार्यालय में भेजने की बात कहते हुए कहा कि जिलाधिकारी इस बात का पता लगाएंगे कि अखबार में पॉजिटिव या नेगेटिव न्यूज़ प्रकाशित की गई है। टीएमसी प्रमुख ने कहा कि बंगाल वैसे भी मीडिया में अक्सर नकरात्मक चीजों के लिए सुर्खियों में रहता है, इसलिए मौजूदा वक्त में मीडिया की ओर से पॉजिटिव कवरेज की बेहद जरूरत है। 

ममता बनर्जी ने यह बातें कब और कौन से कार्यक्रम में कहीं इसकी पुष्टि अभी तक नहीं हुई है। लेकिन सोशल मीडिया पर ममता बनर्जी का यह वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। सोशल मीडिया यूजर्स इसे मीडिया पर सरकारी नियंत्रण की संज्ञा दे रहे हैं। इसके लिए ममता बनर्जी की जमकर आलोचना भी की जा रही है।