Farmers Protest: किसानों के भारत बंद के समर्थन में दिल्ली के ऑटो-टैक्सी यूनियन

टैक्सी और ऑटो यूनियनों के कई प्रतिनिधि किसानों के प्रति अपना समर्थन ज़ाहिर करने के लिए धरने में शामिल भी हुए हैं

Updated: Dec 07, 2020, 03:37 PM IST

Farmers Protest: किसानों के भारत बंद के समर्थन में दिल्ली के ऑटो-टैक्सी यूनियन
Photo Courtesy: Aaj Tak

नई दिल्ली। 8 दिसंबर यानी कल किसानों के बुलाए भारत बंद को ज़बरदस्त समर्थन मिल रहा है। अब दिल्ली के कई ऑटो और टैक्सी एसोसिएशन्स ने भारत बंद का समर्थन करने का एलान किया है। इससे पहले भी कई संगठन भारत बंद के समर्थन का एलान कर चुके हैं। धरने पर बैठे किसानों ने कल सभी लोगों से भारत बंद का समर्थन करने की अपील की थी। आपको बता दें कि देश के लाखों किसान केंद्र सरकार के बनाए कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमाओं 12 दिन से धऱना दे रहे हैं।

दिल्ली टैक्सी टूरिस्ट ट्रांसपोर्टर्स एसोसिएशन के प्रमुख संजय सम्राट के मुताबिक उनका संगठन 8 दिसंबर को भारत बंद में भागीदारी करेगा और काम बंद रखेगा। संजय सम्राट ने बताया कि  कई और टैक्सी संगठनों ने भी भारत बंद के समर्थन का फैसला किया है। उन्होंने बताया कि किसानों के प्रदर्शन को समर्थन देने के लिए विभिन्न बस एवं टैक्सी संगठनों के प्रतिनिधि रविवार को सिंघु बॉर्डर भी पहुंचे थे। 

इस बीच, आरएसएस से जुड़े किसान संगठन भारतीय किसान संघ ने भारत बंद का समर्थन करने से इनकार कर दिया है। आरएसएस का किसान संगठन दलील दे रहा है कि किसानों को लोकतांत्रिक ढंग से सरकार के सामने अपनी बात रखनी चाहिए। नए कृषि कानूनों में जो कमियां हैं उसे लेकर हम पहले ही सरकार को ज्ञापन दे चुके हैं।

बता दें कि नाराज किसानों ने दिल्ली को दूसरे राज्यों से जोड़ने वाली सीमाओं पर डेरा डाला हुआ है। सिंधु बॉर्डर तो पहले दिन से ही बंद है। इसके अलावा दिल्ली और हरियाणा को जोड़ने वाले टिकरी बॉर्डर पर भी किसानों का प्रदर्शन चल रहा है। वहीं नोएडा और दिल्ली को जोड़ने वाले चिल्ला बॉर्डर पर भी किसान जमे हुए हैं। इन सभी जगहों पर पुलिस ने रास्ते बंद कर दिए हैं ताकि किसान दिल्ली के भीतर दाखिल न हो सकें।