नवजोत सिंह सिद्धू बने पंजाब कांग्रेस के नए अध्यक्ष, 4 कार्यकारी अध्यक्षों की भी नियुक्ति

पंजाब कांग्रेस में चल रहे उठापटक के बीच हाईकमान ने निकाला सुलह का रास्ता, कथित रूप से नाराज चल रहे नवजोत सिंह सिद्धू बनाए गए पीसीसी चीफ

Updated: Jul 19, 2021, 10:44 AM IST

नवजोत सिंह सिद्धू बने पंजाब कांग्रेस के नए अध्यक्ष, 4 कार्यकारी अध्यक्षों की भी नियुक्ति
Photo Courtesy : NDTV.com

चंडीगढ़। पंजाब कांग्रेस में लंबे समय से चल रहे आंतरिक मतभेद को आखिरकार खत्म कर लिया गया है। हाईकमान ने सुलह का रास्ता निकालते हुए कथित रूप से नाराज चल रहे नवजोत सिंह सिद्धू को पार्टी का नया प्रदेश अध्यक्ष बनाने का फैसला लिया है। कांग्रेस ने रविवार को इस बात की औपचारिक घोषणा की है।

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल की ओर से जारी किए गए सर्कुलर के मुताबिक पंजाब में सुनील जाखड़ को हटाकर नवजोत सिंह सिद्धू को नया प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है। इसके अलावा चार लोगों को कार्यकारी अध्यक्ष भी बनाया गया है। जिन लोगों को प्रदेश में वर्किंग प्रेसिडेंट बनाया गया है उनमें संगत सिंह, सुखविंदर सिंह डैनी, पवन गोयल और कुलजीत सिंह नागरा शामिल हैं। 

बताया जा रहा है कि कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह के बीच सुलह के फॉर्मूले के तहत सिद्धू पीसीसी चीफ रहेंगे वहीं कैप्टन अमरिंदर सिंह मुख्यमंत्री बने रहेंगे। माना जा रहा है कि अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी नेताओं में मतभेद खत्म करना कांग्रेस के लिए बेहद फायदेमंद साबित होगा। 

इससे पहले बुधवार को पंजाब इकाई की कलह पर कांग्रेस आलाकमान ने मीटिंग ली थी, जिसके बाद सुलह की संभावना जताई गई थी। इसमें कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल, महासचिव प्रियंका गांधी और प्रदेश प्रभारी हरीश रावत ने तमाम पहलुओं पर चर्चा की थी।

हरीश रावत ने भी मीडिया से बातचीत के दौरान स्पष्ट रूप से कहा था कि पंजाब कांग्रेस में 'हर कोई' खुश होगा। हाईकमान का सिद्धू को अध्यक्ष बनाने का फैसला ऐसा ही करने की कोशिश के तौर पर देखा जा रहा है। बता दें कि वरिष्ठ नेता हरीश रावत कांग्रेस हाईकमान की ओर से पंजाब कलह को सुलझाने के लिए बनाई गई सुलह कमेटी के सदस्य हैं।