37 करोड़ यूजर्स पर एक खास विचारधारा को थोप रहा है फेसबुक, भाजपा का सहयोगी बन कर रहा है काम: पवन खेड़ा

कांग्रेस नेता पवन खेड़ा ने कहा है कि फ़ेसबुक बीजेपी के साथ मिलकर देश के लोकतांत्रिक व्यवस्था को कमजोर कर रहा है। संसदीय समिति को इस मामले पर संज्ञान लेते हुए इसकी जाँच करनी चाहिए

Updated: Oct 26, 2021, 02:21 PM IST

37 करोड़ यूजर्स पर एक खास विचारधारा को थोप रहा है फेसबुक, भाजपा का सहयोगी बन कर रहा है काम: पवन खेड़ा

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता पवन खेड़ा ने भड़काऊ सामग्रियों को रोकने में नाकामयाब रहनेवाले फेसबुक की मंशा पर सवाल खड़े किए हैं। पवन खेड़ा फेसबुक पर भारत के 37 करोड़ उपभोक्ताओं पर एक खास विचारधारा थोपने का आरोप लगाया है। कांग्रेस नेता ने कहा है कि इस समय फेसबुक बीजेपी के सहयोगी की तरह काम कर रहा है। 

पवन खेड़ा ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि बात सिर्फ हेट स्पीच की नहीं है, इस देश के सत्ताधारी दल और फेसबुक के बीच गठजोड़ है और भारतीय जनता पार्टी के लोग फेसबुक के अंदर घुस चुके हैं। कांग्रेस नेता ने कहा कि इंडिया फेसबुक का एक बहुत बड़ा मार्केट है। भारत में फेसबुक के करीब 37 करोड़ यूजर्स हैं और इनपर एक खास तरह की विचारधारा को थोपा जा रहा है। 

फेक बुक में तब्दील हुआ फेसबुक 

पवन खेड़ा ने कहा कि फेसबुक अब "फेक बुक" में तब्दील हो गया है। कांग्रेस नेता ने कहा कि फेक न्यूज़, फेक इमेजेस और फेक पोस्ट के जरिए देश में एक माहौल बनाया जा रहा है, जो कि इस देश के सत्ताधारी दल के मनमाफिक काम करता है। वे चाहते हैं कि इस देश में ऐसा ही माहौल रहे।

पवन खेड़ा ने कहा कि फेसबुक बजरंग दल को एक खतरनाक संस्था घोषित करने वाला था, लेकिन उनको यह सलाह दी गई कि ऐसा करने से देश की रूलिंग पार्टी नाराज हो सकती है। कांग्रेस नेता ने कहा कि पिछले वर्ष खुद फेसबुक की सेफ्टी टीम ने यह माना था कि बजरंग दल पूरे देश में एक वर्ग विशेष के खिलाफ हिंसा को बढ़ावा देता है। 

कांग्रेस नेता ने फेसबुक पर भारत के लोकतंत्र को कमज़ोर करने और भारत के चुनावों को प्रभावित करने का भी आरोप लगाया। पवन खेड़ा ने संयुक्त संसदीय समिति द्वारा फेसबुक पर जांच करने की मांग भी की।