वैक्सीन की 100 करोड़ डोज की उपलब्धि पर बोले पीएम, यह हर देशवासी की सफलता है

पीएम ने कहा कि महामारी के आने के बाद दुनिया को यही लग रहा था कि भारत इस महामारी से लड़ पाएगा या नहीं, लेकिन सौ करोड़ वैक्सीन डोज तमाम सवालों के जवाब दे रही है

Publish: Oct 22, 2021, 10:47 AM IST

वैक्सीन की 100 करोड़ डोज की उपलब्धि पर बोले पीएम, यह हर देशवासी की सफलता है

नई दिल्ली। वैक्सीन की सौ करोड़ डोज लगने की उपलब्धि पर प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार देश को संबोधित किया। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन के दौरान इस उपलब्धि को हर देशवासी की सफलता बताया। पीएम ने कहा कि इस उपलब्धि के पीछे 130 करोड़ देशवासियों की कार्यशक्ति लगी है। लिहाज़ा यह सफलता हर देशवासी की सफलता है। 

अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने महामारी के दौरान भारत पर उठ रहे सवालों का भी जिक्र किया। पीएम मोदी ने कहा कि जब सौ सालों की सबसे भयावह महामारी आई तब दुनिया को लग रहा था कि भारत इस महामारी से लड़ पाएगा या नहीं? भारत के लोगों को वैक्सीन मिल पाएगी या नहीं? क्या भारत इतनी बड़ी तादाद में लोगों को वैक्सीन लगवा पाएगा, जिससे इस महामारी को फैलने से रोका जा सके? पीएम ने कहा कि लेकिन आज सौ करोड़ वैक्सीन की डोज इन तमाम आशंकाओं और सवालों के जवाब दे रही है। 

प्रधानमंत्री ने वैक्सीनेशन प्रोग्राम को लेकर अन्य देशों से भारत की तुलना करते हुए कहा कि दुनिया के कई बड़े देशों के पास वैक्सीन पर रिसर्च करने और उनको तैयार करने की महारत हासिल थे। लेकिन भारत वैक्सीन के लिए अन्य देशों पर निर्भर रहता था। जबकि आज कई लोग भारत के वैक्सीनेशन प्रोग्राम की तुलना दुनिया के अन्य देशों से कर रहे हैं। पीएम ने कहा कि वैक्सीनेशन में सौ करोड़ का आंकड़ा पार करने की चौतरफा सराहना हो रही है।

हालांकि प्रधानमंत्री इस दौरान भी अपनी और अपनी सरकार की पीठ थपथपाना नहीं भूले। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमने सबको साथ लेकर सबको वैक्सीन, मुफ्त वैक्सीन का अभियान शुरू किया। हमारा एक ही मंत्र था कि जब महामारी अमीरी और गरीबी में भेदभाव नहीं करती, तो वैक्सीन भी भेदभाव नहीं कर सकता। इसलिए यह सुनिश्चित किया गया कि टीकाकरण अभियान में वीआईपी कल्चर हावी न हो। 

वैक्सीनेशन प्रोग्राम को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने देश के वैज्ञानिकों की तारीफ करते हुए कहा कि भारत का वैकसीनसेशन प्रोग्राम विज्ञान की कोख से जन्मा है। वैज्ञानिक आधारों पर पनपा है। वैज्ञानिक तरीकों से चारों दिशाओं में पहुंचा है। पीएम ने कहा कि हम सबके लिए गर्व की बात है कि भारत का पूरा टीकाकरण अभियान साइंस बोर्न, साइंस ड्रिवेन और साइंस बेस्ड रहा है। 

त्योहारों पर बरतें पूरी सतर्कता, अभी हथियार नहीं डालने 

इसके साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों को सतर्कता बरतने की भी अपील की। पीएम ने कहा कि कोरोना के खिलाफ हमारी यह लड़ाई अब भी जारी है। इसलिए जब तक युद्ध चल रहा हो, तब तक हथियार नहीं डाले जाते। प्रधानमंत्री ने देशवासियों से कहा कि मेरा आग्रह है कि त्योहारों को पूरी सतर्कता के साथ ही मनाना है।